24 October 2017 11:33 AM

Monthly Archives: April 2016

0 253

शिवपुरी के फिजीकल चौकी क्षेत्र में अपने धर की छत पर निर्वस़्त हो कर नहा रही महिला को बुरी नियत से शराब के नशे में घुत अधेड पडोसी ने अपनी छत छलांग कर पकड लिया। महिला के चिल्लाने पर उसके परिजन छत पर आ गये और देखते ही देखते पूरा मोहल्ला इकठठा हो गया। अधेड जैसैतेसे उनके चंगुल से छूट अपनी गठरी बांध कर भागने का प्रयास कर रहा था कि महिलाओ ने उसे पकड कर उसकी चप्पलो से पिटाई कर दी और उसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने मामला कायम कर उसे गिरफतार कर लिया है।

0 256

बान्धवगढ राष्ट्रीय उद्यान ताला मे स्थित जैव विविधता केन्द्र (वन प्रशिक्षण विद्यालय) मे फारेस्ट गार्ड की ट्रेनिंग करने बालाघाट से आये एक प्रशिक्षु की अचानक ह्रदयाघात होने से मौत हो गयी! तत्संबन्ध मे बताया गया कि प्रशिक्षु वनकर्मी (फारेस्ट गार्ड) उपेन्द्र सिंह सेन्गर मुरैना जिला के बरीकापुरा का रहने वाला है जिसकी हाल ही में वन विभाग मे नियुक्ति हुई थी और उसकी पोस्टिंग बालाघाट मे हुई थी और वह प्रशिक्षण के लिये बाँधवगढ आया था! सुबह वह रनिंग के लिये अपने सहकर्मियों के साथ कबीर आश्रम की तरफ जा रहा था कि तभी अचानक गिर पड़ा जिसे सहकर्मियों ने उठाया और वरिश्ठ अधिकारियों को सूचित कर इलाज के लिये मानपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहाँ डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया! अपुश्ट सूत्रो से यह खबर मिली की बान्धवगढ के जिम्मेदार अधिकारी इस भीषण गर्मी मे ट्रेनिंग के नाम पर प्रशिक्षु वनकर्मियो को खूब दौडाते थे जिससे प्रशिक्षुओं का गला सूख जाता था और वे प्यास से तडफ जाते थे! फिलहाल मृतक के परिजनो को सूचित कर दिया गया है!

शहर को महानगर बनाने की दिशा में नगर निगम आयुक्त व महापौर द्वारा सड़कों के चौड़ीकरण का काम प्राथमिकता से किया जा रहा है। इसी क्रम में बुधवार सुबह जब भोर का सूरज उजियारा फैलाने आ रहा था, तभी अतिक्रमण दस्ता भी कच्चे पक्के निर्माणों को तोडऩे ग्वारीघाट रोड पहुंच चुका था। लोग जब तक ऊठ पाते, तब तक कार्रवाई शुरू हो चुकी थी। निगमायुक्त वेदप्रकाश के निर्देशन में बुधवार को ग्वारीघाट रोड रेतनाका के अतिक्रमण हटाए जा रहे हैं। करीब आधा दर्जन दुकानों सहित कई छोटे-बड़े कब्जे हटाए जा चुके हैं। सुरक्षा की दृष्टि से भारी पुलिस बल मौके पर तैनात है। अतिक्रमणकारियों द्वारा विरोध भी किया जा रहा है, लेकिन कार्रवाई नहीं रोकी गई। निगमायुक्त वेदप्रकाश ने बताया कि त्यौहारों के अलावा अन्य विशेष अवसरों पर सबसे ज्यादा जाम रेत नाका के पास ही लगता है। सड़क चौड़ी होने के बाद अब वाहनों का जमावड़ा नहीं लगेगा और लोग आसानी से नर्मदा तट तक पहुंच सकेंगे।

2 साल की मासूम अमीना ने घर पर मशीन में डालने वाला आइल पी लिया था जिसे उपचार के लिए मंगलवार को एमवाय लाया गया। जहाँ से इलाज से संतुष्ट नहीं होने पर परिजनों ने निजी अस्पताल ले जाने के लिए निजी अस्पताल गोकुदास की एम्बुलेंस बुलवाई लेकिन एम्बुलेंस आपरेटर ने ऑक्सीजन ज्यादा खोल दी जिससे मासूम बच्ची के शरीर में ऑक्सीजन ज्यादा मात्रा में एक दम से चली गई जिससे उसके शरीर से खून बहार आ गया और पूरी बॉडी फूल गई जिसके बाद मासूम की मौत हो गई। मामले में परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है।

0 254

फर्जी चेक के जरिये धोखाधड़ी का यह मामला इंदौर के पलासिया थाना क्षेत्र के मनोरमा गंज का है। यहाँ रहने वाले दीपक नाम के व्यक्ति का कोई अज्ञात शख्स ने फर्जी चेक बना कर उसके खाते में से करीब पांच लाख बीस हजार रूपये निकाल लिये। पैसो की ये हेरा फेरी लगभग ढाई माह पहले की गयी थी जिसका पता फरियादी को अब लगा जिसके बाद उसने पलासिया थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। फिलहाल यह साफ नहीं हुआ है की इस ठगी की वारदात को अंजाम किस व्यक्ति ने दिया है लिहाजा पलासिया पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करते हुए अपनी जांच प्रारम्भ कर दी है।

सामने से आ गई गाय को बचाने में पीछे से आ रहे निगम के टेंकर ने बाइक सवार 60 वर्षीय सुरेंद्र जोशी गिर गए इस बिच पानी से भरा टेंकर का पहिया उनके पैर पर चढ़ गया। वही साथी घायल हो गया टेंकर चालक टेंकर छोड़ कर भाग गया लोगो ने टेंकर को रोक कर पुलिस को इस घटना की जानकारी दी फ़िलहाल पुलिस ने टेंकर जब्त कर चालक की तलाश शुरू की है।

ग्वालियर में गुरुवार सुबह नाका चंद्रबदनी इलाके में स्थित लड़की के बॉक्स बनाने के कारखाने में अचानक आग लग गई। आग ने देखते ही देखते भीषण रुप ले लिया, और लकड़ी कारखाने को अपनी चपेट में ले लिया, रहवासी इलाके में स्थित लकड़ी कारखाने में आग लगने से हड़कंप मच गया, आसपास के लोगों ने पुलिस और फायरब्रिगेड को खबर दी, खबर मिलते ही नगर निगम की तीन दमकलें मौके पर पहुंची औऱ करीब एक घंटा से ज्यादा की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। लकड़ी का कारखाना रहवासी और तंग इलाके में बना हुआ है लिहाजा आग बुझाने के लिए फायरब्रिग्रेड कर्मचारियों को भारी मशक्कत करना पड़ी, लकड़ी के कारखाने में सुबह-सुबह आग लगी थी, हालाकि अभी ये साफ नहीं हो पाया कि आग किन कारणों से लगी थी।

0 637

ग्वालियर के पनिहार क्षेत्र में एक अनियंत्रित ट्रक ने वाइक सवार सीआरपीएफ जवान को टक्कर मार दी जिससे सीआरपीएफ जवान कमलेष सिंह की मौके पर ही मौत हो गई और ट्रक चालक फरार हो गया । घटना की जानकारी सीआरपीएफ कैम्प पनिहार में लगी वैसे ही सीआरपीएफ के जवान मौके पर पहुंचे और ष्षव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है सीआरपीएफ के जवान कमलेष सिंह कष्मीर में पदस्थ था और वह अपने कुछ साथियों के साथ सरकारी काम से पनिहार स्थित सीआरपीएफ के कैम्प में आया था और कैम्प से कुछ दूरी पर ही यह हादसा हुआ।

0 354

राजधानी के आईएसबीटी के पास खोली जा रही शराब की दुकान का छात्र छात्रों द्वारा विरोध किया गया। शराब की दुकान का विरोध कर रहे छात्रों के साथ भोपाल के महापौर आलोक शर्मा ने भी यहां पर दुकान खौले जाने पर विरोध जताया। उन्होने कहा कि पास में ही शिक्षण संस्थान है जहां बच्चे शिक्षा ग्रहण करन के लिए आते है, लेकिन शराब की दुकान खुल जाने से शाम के समय शराबी बच्चियों को परेशान करते है। जिसको लेकर उन्होने भोपाल कलेक्टर निशांत वरवडे से फोन पर बात कर यहां से दुकान को तत्काल हटाने की कार्यवाही किए जाने का अनुरोध किया।

0 225

प्रदेश के संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने आज भर्ती कांउसलिंग के दौरान जमकर हंगामा किया। दरअसल राजधानी भोपाल के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मे नई भर्तीयो को लेकर कांउसलिंग कि जा रही थी। इस दौरान संविदा अवधि समाप्त होने के कारण हटाये गये 311 कर्मचारियों ने जमकर विरोध किया। उन्होने कहा कि शासन-प्रशासन अनुभवी संविदा कर्मचारियों को दोबारा कार्यभार नही सौपना चाहता जिसके चलते बिना नियम शर्तो का सहमत पत्र भरवाया जा रहा है। विरोध कर रहे कर्मचारियों ने कहा कि शासन पहले से ही संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों कि नवनियुक्तिया नही चाहता है जिसे लेकर प्रदेश के 311 स्वास्थ्य संविदा कर्मचारियो को सेवा अवधि समाप्त होने के कारण 11 अप्रेल को निकाल दिया गया। इस बात के विरोध के बाद शासन ने पुनर्नियोजन का आदेश जारी किया,लेकिन इस आदेश का पालन नही किया जा रहा है। उन्होने कहा कि सहमत पत्र भरवाने के बाद शासन को कभी भी सेवा समाप्त करने का अधिकार होगा इतना ही नही बल्कि अन्य विभागों मे संविलियन के साथ प्रदेश मे कही भी स्थानानतरण का भी अधिकार होगा जिसके बाद कर्मचारी अधिकारीयो कि मनमानी सहने को विवश हो जाएगे। वही इन मामले पर एनआरएचएम के डायरेक्टर ने कहा कांउसलिग शासन के आदेशो के आधार पर कराई जा रही है। उन्होने कहा कि किसी भी कर्मचारी के साथ अन्याय नही किया जाएगा।