24 October 2017 11:21 AM

Monthly Archives: June 2016

0 300

मामला ग्राम कदेहलि ललितपुर नंबर 1 का है जाया देर शाम दयाराम मांझी कुवे के पास से जा रहा था जो की विछिप्त था किसी कारण वर्ष पैर फिसलने से कुवे मैं गिर गया जिसे बचाने राजेंद्र मांझी भी कुँआ में उतरा जो की जहरीली गैस के शिकार से वो भी पानी मैं गिर गया गाव में हल्ला हुवा देखते देखते और 4 लोग कुआ में उतरे जो की चारो जहरीली गैस का शिकार बने आनन फानन में बड़ी मशक्कत से सभी को कुआ से बाहर निकाला गया इलाज के लिए गोविन्दगढ़ अस्पताल ले जाया गया। जहा डॉ ने दयाराम 50 वर्ष और राजेंद्र मांझी 40 वर्ष को मृत घोषित कर दिया वाही 4 अन्य का इलाज चल रहा है जो की अभी खतरे से बाहर है कुवा क्यों की सुख था उसमें कुछ ही शेष पानी बचा था जिसमें जहरीली गैस थी उसी का ये सभी शिकार हुवे है मृतक का मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम के लिए अमरपाटन हॉस्पिटल भेजा गया है।

इंदौर के संयोगितागंज थाने पर जमकर हंगामा हुआ। नाबालिग औऱ उसके परिजनो से साथ आरोपी पक्ष ने जमकर मारपीट की। शिकायत करने आई नाबालिग का हाथापाई के दौरान हाथ कट गया। नाबालिग लहू लुहान हालत मे थाने पर पहुची। थाने के अंदर हुई घटना के बाद भी पुलिस तमाशबीन बनी रही..हंगाम चलता रहा औऱ पुलिस अपने अंवेदनशील बनी बैठी रही। दरअसल नाबालिग के साथ एबीरोड के सुयष हास्पिटल के पीछे इलाके के ही बदमाश कालू सिलावट मे अश्लील हरकत करने की कोशिश की। नाबालिक का आरोप है की बदमाशा कालू सिलावट पिछके कई महीनो से परेशान कर रहा था। आते जाते फबतिया कसना और विरोध करने पर एसिड फेंकने की घमकी देता था। आरोप है की बदमाश कालू ने नाबालिग का हाथ पकड़कर जमीन पर गिराने की कोशिश की थी। कैसे तैसे जान बचाकर नाबालिग ने पुरी घटना की जानकारी परिजनो को दी जिसके बाद पुरा मामला थाने पर पहुचा। फरियादी के थाने पहुचने पर पुलिस ने आरोपी कालू को हिरासत मे ले लिया लेकिन कालू के पुलिस स्टेशन मे पहुचने के बाद आरोपी पक्ष के परिजन भी थाने पर पहुच गए और पिडित पक्ष के साथ गुथमगुथी हो गए। आरोपी कालू की पत्नी का आरोप है की नाबालिग ने पति पर झुठा आरोप लगाया है। पुरी घटना की जानकारी जैसी ही सीएसपी आरसी राजपूत को पता चली तो पहले थाने पर मौजूद पुलिसकर्मियो की फटकार लगाई औऱ आरोपी पक्ष के खिलाफ कार्रवाही के निर्देश दिए है।

0 498

इंदौर मे देवगुराडिया इलाके से देर रात गंभीर रुप से घायल अवस्था मे महिला को उपचार के लिए एमवाय होस्पिटल लाया गया। महिला करीब 10 घंटे बीत जाने के बाद भी नशे की हालत में है। दरअसल देवास की एक महिला को लिफ्ट देने के बहाने चार से पांच बदमाशो ने पहले अगवा किया। फिर चाय मे नशे की दवा मिलाकर पिलाई औऱ फिर देवगुराडियो के सुनसान इलाके मे ले जाकर मारपीट कर दुष्कर्म का प्रयास किया। महिला के विरोध करने के बाद असफल होने पर बदमाशो ने बेसुध हालत मे महिला को छोडकर फरार हो गए है। महिला के मुताबिक बदमाशो ने उसका पर्स,मोबाईल,औऱ नगदी लेकर फरार हो गए है। घटना की सूचना पर जांच के लिए पहुंची खुडैल पुलिस ने महिला का मेडिकल कराया है। पुलिस के मुताबिक महिला अब भी नशे मे है। इसलिए पुलिस महिला के ठीक होने का इंतजार कर रही है और उसके बाद ही महिला के बयान कर अपराधियों को गिरफ्तार करने का प्रयास करेगी। वही मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद ही महिला से दुष्कर्म की पुष्टि हो पाएगी। फिलहाल पुलिस ने महिला के साथ मारपीट,अपहरण औऱ लूट की धाराओ मे केस दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

0 296

ग्वालियर की इंदरगंज थाना पुलिस ने 4 बदमाशों को डकैती की योजना बनाते हुए गिरफ्तार किया है। बदमाश शहर की फालके बाजार के एक व्यापारी के घर डकैती की योजना बन रहे थे। फिलहाल पुलिस ने चारों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। बदमाशों के पास से एक 315 बोर का कट्टा, तलवार, सरिया ओर लाठी बरामद किए है। दरअसल इंदरगंज थाना पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ युवक बकरा मंडी के पास बैठे हुए है। साथ ही किसी डकैती की बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे है। जिसके बाद पुलिस ने वहां छापेमार कार्रवाई की जिसमे चारों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक ये लूट ओर डकैती की घटनाओं को सिर्फ इसलिए अंजाम देते है। जिससे नशे के लिए रूपए इक्ट्टा किये जा सकें ।

इंदौर की विजयनगर थाना पुलिस ने वडा पाव की दुकान मे काम करने वाले बंटी और बब्ली को गिरफ्तार किया है। दोनो ने मिलकर बडा पाव के एजेंसी संचालक के घर पर घुसकर लाखो रुपए के सामान की चोरी की और फरार हो गए थे। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने दोनो को गिरफ्तार कर लिया है। इंदौर के विजय नगर थाना क्षेत्र मे रहने वाले सौरभ ने पुलिस को 16 जून को अपने घर पर चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने जांच शुरु की तो पता चला की बडा पाव की दुकान मे काम करने वाला युवक गुरभीत का चेहरा सीसीटीवी फुटेज मे चोरी की घटना के दौरान कैद हो गया था। गुरभीत के साथ महिला भी सीसीटीवी फुटेज मे दिखाई दे रही थी। दोनो बंटी और बब्ली ने मिलकर घर मे रखा लेपटाप,मोबाईल,16 हजार कीमत की घड़ी, हार्डडिस्क,प्रिंटर सहित सोने की चेन लेकर फरार हो गए थे। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गुरभीत को हिरासत मे लेकर पुछताछ की तो आरोपी ने गुनाह कबूल कर लिया। पुलिस के मुताबिक बंटी गुरभीत की पार्टनर रजनी व्यास भी वाव बडा पाव सेंटर में ही काम करती है और पति से तलाक हो जाने के बाद अपने दोनो बच्चो के साथ अलग रह रही थी। दोनो से पुलिस पुछताछ कर रही है। पुलिस के मुताबिक सोने की चैन को छोडकर बाकी सामान जब्त हो गया है। पुलिस अब दोनों से कड़ी पूछताछ में जुटी है। पुलिस के मुताबित संभव है की इनसे चोरी की अन्य वारदातों का भी खुलासा हो सकता है।

0 177

भोपाल के एमपी नगर थाने क्षेत्र स्थित मानसरोवर काम्पलेक्स के पास एक युवक ने अपने पांच साथियों के साथ मिलकर पीके मिश्रा के साथ मारपीट कर दी। मारपीट करने का आरोप पवन राजपूत पर लगा है जो अपने आप को प्रदेश के राजस्व मंत्री रामपाल सिंह का रिश्तेदार बता रहा है। हालाकि पुलिस ने फरियादी पीके मिश्रा के शिकायत पर पवन के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और मामलें की जांच शुरु कर दी है। मामलें में अभी पवन और उसके साथियों की गिरफ्तार नही हो सकी है।

भोपाल के प्रोफेसर्स कॉलोनी स्थित कमला नेहरू गर्ल्स हॉस्टल में जूनियर्स से मारपीट करने और उनको धमकी देने वाली तीनों छात्राओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गौरतलब है कि महिला आयोग कि अध्यक्ष लता वानखेडे को मिली शिकायत के बाद सोंमवार को महिला आयोग की टीम ने यहां दौरा किया था। जहां दहशत के बीच लड़कियों ने महिला आयोग की अध्यक्ष को बताया कि दोनों सीनियर बाकी लड़कियों से बदसलूकी करती हैं। यही नहीं, हॉस्टल में देर रात लड़के भी आते हैं, जिन्हें भाई बताया जाता है गर्ल्स हॉस्टल में रह रही स्टूडेंट सृष्टि उइके ने महिला आयोग की प्रेसिडेंट लता वानखेड़े को आपबीती सुनाई। इसी के साथ साथ छात्रावास में रहने वाली छात्राओं ने तीनो आरोपी छात्रा सीमा प्रति और रजनीश के खिलाफ जूनियर्स के साथ दुरव्यवहार करने और छात्राओं के साथ मारपीट के साथ साथ उनसे कपडे धुलवाने की शिकायत की थी। बताया जा रहा है कि दो साल से यहां दो लड़कियों ने सबकी नाक में दम कर रखा है। महिला आयोग की टीम के दौरे के बाद पुलिस की टीम ने भी छात्रावास पहुंचकर दौरा किया और यहां की छात्राओं से बातचीत की जिसके बाद पुलिस से एक छात्रा ने तीनों आरोपी छात्रा के खिलाफ शिकायत की और फिर पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया जिसके बाद देर रात ही आरोपी छात्रा के भाई द्वारा तीनों की जमानत ले ली गई थी लेकिन जैसी ही तीनों आरोपी छात्राएं थाने से छूटी दुबारा से अपनी दंबगई दिखाने लगी, जिसके बाद पुलिस ने अलग से मामला दर्ज कर तीनों आरोपी छात्रा को गिरफ्तार कर महिला थाने भेज दिया है और मामलें की जांच शुरु कर दी है। हांलाकि अभी भी छात्रावास में रहने वाली छात्राओं में दोनों छात्रा सीमा और उसकी बहन प्रिति की दहशत देखी जा रही है। वही जिस छात्रा द्वारा शिकायत की गई है उसका भी यही कहना है कि तीनों आरोपी छात्राओं के खिलाफ सख्त कार्यवाही करना चाहिए और उन्हे तत्काल छात्रावास से निकाल देना चाहिए।

0 204

अम्बिकापुर का आई टी आई संस्थान लगातार किसी न किसी समस्या से जूझता रहा है कभी लाइबेरी , कभी भवन कभी प्रयोगशाला तो कभी बैठक व्यवथा की कमी इस सस्थान मर हमेशा से बनी रही है बीते लम्बे समय से इन समस्या का सामना करते रहे छात्रों ने आई टी आई के उच्च अधिकारिओ को समय समय इन समस्याओं से अवगत कराते रहे पर आज तक इन समस्याओं का हल नहीं निकल पाया इन अव्यवस्थाओं के बीच अध्यनकरने को मजबूर छात्रों ने अंतः एबीविपी के माध्यम से अपनी बात राज्य निदेशक तक पहुंचाई। दरअसल छात्रों की मांग की सूची बहुत लम्बी थी किन्तु इन सबके बीच छात्र आई टी आई में बीते वर्षो में की गई भर्तीयो में भ्र्स्टाचार और शिक्षकों के मनमाने रवैये को लेकर ज्यादा आंदोलित है। एबीविपी के छात्रों ने निदेशक को ज्ञापन जरूर सौपा पर उनकी ओर से इसके हल के लिए कोई महकुल जवाब नहीं मिला गर्माया माहौल में उन्होंने ने इस सम्बन्ध में कोई भी जवाब देने से मना कर दिया इतना ही नहीं छात्रों द्वारा लगाए गए आरोपों पर भी निदेशक ने कोई जवाब नहीं दिया। बहरहाल छात्रों ने ज्ञापन सौप अपना विरोध जाता दिया है और समय सीमा के अंदर इन समस्याओ की हल हो जाने की उम्मीद भी की है लेकिन इस बात का विरोध काफी जोशीला था और छात्रों ने ये चेतावनी दी है की यदि इन समस्याओं के हल पर ध्यान नहीं दिया गया तो भविष्य में एबीविपी इन मांगो को लेकर सड़कों पर उतरने मजबूर हो जाएगा।

0 164

राजधानी रायपुर के मोमीन पारा मेन रोड स्थित टायर गोदाम में लगी भीषण आग से पूरे इलाके में अफरातफरी मच गई, तेज हवाओ के साथ उठ रही ऊंची लपटों से बस्ती मे आग फैलने की आशंका से दहशत फैली और लोग अपने घरो से बाहर निकल आए, भगदड और अफरातफरी के मौहोल में दो घन्टे तक फायर ब्रिग्रेड कि मदद से आग को फैलने से रोक लिया गया । जानकारी के मुताबिक आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताई जा रही है ।नुकसान का अनुमान अभी नही लगाया जा सकता।