24 October 2017 11:28 AM

Monthly Archives: July 2016

0 367

प्रदेश सरकार जिस तरह से कर्ज में डूब रही है और 1.40 लाख करोड़ का कर्ज ले चुकी है। इस पर बोलते हुए सिंधिया ने कहा कि सरकार कर्ज लेती है इसमें कोई बुराई नही है परंतु इस पैसे का इस्तमाल कहाँ किया जा रहा है ये देखने वाली बात है। नगर पालिका अध्यक्ष मुन्ना लाल कुशवाह पर पुलिस ने तुरंत मामला दर्ज कर जेल भेजने की कार्यवाही की थी। अब बड़े बड़े लोगो के नाम बीपीएल सूची में आ रहे है तो अब पुलिस और सरकार कार्यवाही क्यों नही कर रही है। कुशवाह समाज और प्रदेश की जनता इसका जबाब अगले चुनाव में देगी। आतंकी बुरहान के सवाल पर सिंधिया ने कहा कि कश्मीर में पीडीपी और बीजेपी की सरकार है। 12 दिनों से कर्फ्यू लगा है परंतु इस दौरान न तो प्रदेश और न ही केंद्र से कोई जेल में बंद लोगों से मिलने नही गया। उन्होंने जब लोकसभा में मुद्दा उठाया तब उनके आग्रह पर राजनाथ सिंह कश्मीर गए। इससे बीजेपी की सम्बेदनहीनता साफ़ दिखाई देती है।

आरोप है कि जमीन पर कब्जे को लेकर खाती समाज के लोगों ने सालों से रह रहे आदिवासी परिवार पर हमला कर दिया और महिलाओं के साथ भी जमकर मारपीट की गाँव के लोगो का कहना है कि कुछ दबंगों की नजर इस जमीन पर है और उन्होंने जमीन पर कब्जे की नीयत से इस घटना को अंजाम दिया है। इस मामले में अभी तक पुलिस ने कोई खास कार्रवाई नहीं की है दृ जिसको लेकर भी ग्रामीणों में खासा आक्रोश है।

0 266

दमोह पुलिस को आज एक बड़ी सफलता मिली है दमोह जिले में पिछले कुछ समय से लोगो के मोबाईल पर लाखो की लाटरी लगने के फोन काल्स आ रहे थे जिसमे कुछ लोग झांसे में आकर ठगी करने वाले के कहे अनुसार पहले उसके अकाउंट में पैसा जमा करने की बोलने पर लोगो के दुआरा उसके अकाउंट में पैसा जमा करने पर भी लाटरी का पैसा न मिलने पर ठगी का शिकार हो गये थे। सिटी कोतवाली में शिकायत होने पर दमोह पुलिस ने सूक्ष्मता से जाँच शुरु की और पश्चिम बंगाल के आसनसोल से आरोपी को गिरफ्तार किया ।

भोपाल की क्राइम ब्रान्च पुलिस को बडी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने एक शातिर वांरटी बदमाश कों अनुज सक्सेना को धर दबोचा है। क्राइम ब्रांच पुलिस को सूचना मिली थी कि थाना कोलार में गंभीर वारदातों को अंजाम देने वाला वारंटी बदमाश अनुज बैरागढ के निजी अस्पताल में नाम बदलकर अपनी पत्नी का ईलाज करवा रहा है। सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम ने बैरागढ स्थित निजी अस्पताल पहुंचकर आरोपी की तलाश शुरु की। जहां अस्पताल में जाकर तस्दीक करने पर आरोपी पुलिस को वहा मिला। जिसे क्राइंम ब्रांच की टीम द्वारा घरेाबंदी कर गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में पहले आरोपी ने अपना नाम करन सक्सेना बताया बाद में सख्ती से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम अनुज सक्सेना बताया जिसके द्वारा भोपाल के विभिन्न थाने क्षेत्रों में अपहरण, हत्या के प्रयास, एवं चोरी जैसे गंभीर वारदातों को अंजाम देने के मामले दर्ज है। आरोपी पर लगभग आधा दर्जन स्थाई वारंट होना पाया गया जिस पर आरोपी अनुज सक्सेना को थाना कोलार के सुपुर्द किया गया।

भोपाल क्राइम ब्रांच पुलिस ने एक शातिर वाहन चोर को गिरफ्तार किया है जिसके पास से पुलिस ने एक चोरी की मोटरसाईकल जब्त की है। क्राइम ब्रान्च पुलिस को सूचना मिली थी कि अम्बडेकर नगर ग्राउंड के सामने एक व्यक्ति काले रंग की पल्सर मोटर साइकिल बेचने की फिराक मे घूम रहा है जो काफी कम दाम में गाडी बेचने की बात कर रहा है। क्राइम ब्रान्च की टीम ने तत्काल मौके पर पहुंचकर आरोपी की तलाश शुरु की, तो अम्बडेकर नगर मैदान के सामने एक लडका बाईक समेत खडा दिखाई दिया,जिसका हुलिया मुखबिर के बताये हुलिये से मिल रहा था। पुलिस ने तत्काल घेराबंदी कर आरोपी को हिरासत में लिया और गाडी के संबंध मे तथा उसके बारे मे पूछताछ की तो अपना नाम आजाद अहिरवार निवासी कान्हाकुज झुग्गी दशहरा मैदान कोलार राडे भोपाल का होना बताया और गाडी के दस्तावजे पेश नही कर पाया तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया और थाने लाकर पूछताछ की तो आरोपी ने बताया कि यह मोटर साइकिल कोलार क्षेत्र से 03 साल पहले चोरी की थी जो उसने रास्ते मे दुघर्टनाग्रस्त मोटर साइकल सवार एक व्यक्ति को देखा जिसे एम्बूलेसं अस्पताल लेकर गयी थी और उसकी गाडी वही खडी कर दी थी। मोटर साइकल को रास्ते पर खड़ा देख मौका पाते की उसे उठा कर ले गया और उपयोग करने लगा। बताया जा रहा है कि आरोपी हलवाई का काम करता है। अब पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है और ये पता लगाने का प्रयास कर रही है।

0 205

बहुचर्चित छछानपैरी गाँव की ह्त्याकाण्ड हर बार उलझते जा रहा है। पुलिस की कोशिश अभी तक धरी की धरी रह गई है। अस्पताल से इलाज़ के बाद घर गए आशाराम डहरिया ने पुलिस को १३ सदिग्धों के नाम बताए है जिनसे पुलिस पूछताछ कर रही है। सूत्रों के अनुसार अभी तक इस मामले में ६० से भी अधिक बयान दर्ज की जा चुकी है। १० हजार से भी ज्यादा मोबाईल काल डिटेल खंगाला जा चूका है। इसके बाद भी पुलिस को कोई भी सुराग नहीं मिल पाई है,मामले में पूर्व विधायक शिव डहरिया ने पूर्व सीएम अजीत जोगी पर आरोप लगाए थे की नई पार्टी में शामिल नहीं होने का का खामियाजा भुगतना पड रहा है और सीबीआई जांच की मांग भी कर चुके है। डेढ़ माह बाद भी ह्त्या की गुत्थी नहीं सुलझ पाई है,११ जून को पूर्व विधायक शिव डहरिया की माँ गोदावरी डहरिया की कुल्हाड़ी मारकर ह्त्या कर थी वहीँ पिता आसाराम डहरिया पर भी प्राणघातक हमला की गई है। यह मामला पुलिस के सिरदर्द बनी हुई है।