H

CM Bhajanlal की मीटिंग के दौरान हुआ हंगामा, BJP पदाधिकारी को पुलिस ने रोका तो कही ये बात, समर्थकों ने किया विरोध

By: payal trivedi | Created At: 10 February 2024 12:27 PM


मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा दो दिन के नागौर दौरे पर हैं। सीएम शुक्रवार शाम जिला भाजपा कार्यालय में पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की मीटिंग ले रहे थे। मीटिंग में शामिल होने के लिए अजमेर प्रांत संगठन मंत्री पुखराज पहाड़िया भी पहुंचे, लेकिन पुलिस ने उन्हें मीटिंग में जाने से रोक दिया। इस पर हंगामा हो गया।

banner
Jaipur: मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा (CM Bhajanlal) दो दिन के नागौर दौरे पर हैं। सीएम शुक्रवार शाम जिला भाजपा कार्यालय में पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की मीटिंग ले रहे थे। मीटिंग में शामिल होने के लिए अजमेर प्रांत संगठन मंत्री पुखराज पहाड़िया भी पहुंचे, लेकिन पुलिस ने उन्हें मीटिंग में जाने से रोक दिया। इस पर हंगामा हो गया। पहाड़िया समर्थकों ने पुलिस का विरोध शुरू कर दिया।

क्या बोले पहाड़िया?

पहाड़िया ने कहा कि आप लिस्ट चेक कर लीजिए। अगर मेरा नाम न हो तो फिर चाहे मत जाने देना। इस पर भी कोई हल नहीं निकला। पहाड़िया ने मीटिंग में मौजूद पदाधिकारियों तक बात पहुंचाई तो बैठक से पहाड़िया को बुलाने का आदेश आया। इसके बाद पहाड़िया बैठक में पहुंचे और मंच पर अपना स्थान लिया। भाजपा पदाधिकारी पुखराज पहाड़िया को मीटिंग से जाने से रोका तो वे बोले- ऊपर जाकर पूछ आओ।

पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प

दरअसल, सीएम भजनलाल शर्मा बीजेपी कार्यालय (CM Bhajanlal) में पहली मंजिल पर मीटिंग हॉल में पहुंचे तो उनके पीछे कार्यकर्ताओं की भीड़ उमड़ पड़ी। भाजपा कार्यालय में भीड़ इतनी ज्यादा हो गई कि पुलिस को कार्यकर्ताओं को संभालना मुश्किल हो गया। पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच दो बार झड़प भी हुई। इसी बीच पुखराज पहाड़िया बैठक में हिस्सा लेने जाने लगे। तभी एसपी नारायण टोगस ने बैठक की लिस्ट में नाम न होने का हवाला देते हुए पहाड़िया को रोक दिया।

प्रांत संगठन मंत्री है पुखराज पहाड़िया

गौरतलब है कि प्रांत संगठन मंत्री होने के कारण पुखराज पहाड़िया के लिए मंच पर स्थान बनाया गया था। इसके कुछ देर बाद विधानसभा चुनाव 2023 में लाडनूं सीट से प्रत्याशी रहे करण सिंह लाडनूं के साथ भी यही वाकया हुआ। उन्हें भी पुलिस ने रोक लिया और बैठक से बुलावा आने के बाद जाने दिया गया।