H

Farmer Protest: किसान आंदोलन को लेकर राजस्थान बार्डर पर अलर्ट, अगले दो दिन के लिए लोगों से की गई अपील, तीन जिलों में धारा 144 लागू

By: payal trivedi | Created At: 12 February 2024 05:22 PM


समर्थन मूल्य गारंटी कानून बनाने समेत विभिन्न मांगों को लेकर किसान संगठन दिल्ली की ओर बढ़ रहे हैं। इधर, किसानों के दिल्ली कूच के बाद राजस्थान से सटे पंजाब-हरियाणा के बॉर्डर के जिलों में अलर्ट जारी किया गया है।

banner
Jaipur: समर्थन मूल्य गारंटी कानून बनाने समेत विभिन्न मांगों (Farmer Protest) को लेकर किसान संगठन दिल्ली की ओर बढ़ रहे हैं। इधर, किसानों के दिल्ली कूच के बाद राजस्थान से सटे पंजाब-हरियाणा के बॉर्डर के जिलों में अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा तीन जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है। कोटपूतली-बहरोड़ जिले के हरियाणा बॉर्डर शाहजहांपुर में किसान आंदोलन को लेकर पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गया है। वहीं हनुमानगढ़ जिले के भादरा मोड-नोहर-फेफाना तिराहे पर भी 8-8 घंटे के ‎टर्म में पुलिस नाकाबंदी और वाहनों की जांच ‎शुरू हो गई है। दोनों ही मोर्चों पर एसपी और डीएसपी लेवल अधिकारी लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं। इसके साथ ही प्रशासन ने पंजाब-हरियाणा की ओर यात्रा करने वाले लोगों के लिए अगले दो दिन की ट्रैफिक एडवाइजरी भी घोषित की है।

श्रीगंगानगर, हनुमानगढ और अनूपगढ़ जिले में धारा 144 लागू

ऐसे ही राजस्थान के अलग-अलग सीमा क्षेत्र पर पुलिस ने बैरिकेडिंग करके जिक-जैक ‎बनाए गए हैं। बताया जा रहा है कि इन रास्तों को बंद कर दिया जाएगा। अनूपगढ़ और हनुमानगढ़ जिले में आगामी दिनों में कानून-व्यवस्था की‎ स्थिति को देखते 144 लागू कर दी गई है। हनुमानगढ़ कलेक्टर ने बताया कि यह आदेश ‎11 फरवरी शाम 6 बजे से 20 फरवरी की‎ मध्यरात्रि तक जिले में लागू रहेगा।

हरियाणा बॉर्डर पर 12 पुलिस कर्मियों का जाब्ता

वहीं बहरोड के डीएसपी तेज पाठक ने बताया कि बहरोड (Farmer Protest) के मांढण में हरियाणा बॉर्डर पर 12 पुलिस कर्मियों का जाब्ता लगाया गया है, जबकि शाहजहांपुर बॉर्डर पर 30 जवानों ओर अधिकारियों के साथ जाब्ता तैनात किया गया है। यहां शाहजहांपुर थानाधिकारी रामकिशोर शर्मा मॉनिटरिंग करेंगे। शाहजहांपुर बॉर्डर पर 30 जवानों ओर अधिकारियों के साथ जाब्ता तैनात किया गया है।

आम लोगों के लिए ट्रैफिक एडवाइजरी जारी

हनुमानगढ़ जिला पुलिस ने ट्रैफिक ‎एडवाइजरी भी जारी की है। इस एडवाइजरी में लोगों से‎ 12 और 13 फरवरी को पंजाब-हरियाणा ‎राज्य में यात्रा करने से बचने को कहा है। ‎अपील में कहा है कि बहुत जरूरी होने पर ही‎इन दो दिनों में पड़ोसी राज्य पंजाब-हरियाणा ‎की यात्रा करें। साथ ही बड़े ट्रक और ट्रांसपोर्ट‎वाहनों के लिए अलग से रूट मैप तैयार किया‎ गया है।‎

पंजाब और हरियाणा जाने के‎ लिए 13 को ये रहेगा रूट

- बीकानेर से नेशनल हाईवे 62 पर ‎श्रीगंगानगर होकर हरियाणा जाने वाले भारी‎ वाहन अर्जुनसर, पल्लू, भानीपुरा, सरदार शहर ‎होते हुए चूरू से हरियाणा जा सकेंगे।‎

- बीकानेर से नेशनल हाईवे 62 पर ‎श्रीगंगानगर होकर पंजाब व हिसार जाने ‎वाले सभी प्रकार के भारी वाहन अर्जुनसर,‎पल्लू, न्योखली, नोहर और भादरा होते हुए जा‎ सकेंगे।

- श्रीगंगानगर से साधुवाली, पतली और कोठा‎पुल तथा अन्य रास्तों से सभी प्रकार के भारी‎ वाहनों पर आवागमन पूरी तरह बंद रहेगा।

- जिला अनूपगढ़ से आने वाले भारी वाहन सूरतगढ़ से वाया अर्जुनसर होकर पल्लू से‎ आगे जा सकेंगे।

- हनुमानगढ़ से संगरिया की तरफ जाने‎ वाले सभी प्रकार के भारी वाहनों पर पूरी‎ तरह से प्रतिबंध रहेगा।

- श्रीगंगानगर से आने वाले भारी वाहन ‎कैंचियां चेक पोस्ट से वाया सूरतगढ़,‎ अर्जुनसर होकर पल्लू से जा सकेंगे।‎

13 फरवरी को तैनात होगा बड़ा पुलिस जाब्ता

बता दें कि, 2021 में कांग्रेस सरकार में बॉर्डर पर ही सबसे लंबा आंदोलन चला था। ईएसपीएन अधिकारियों को निर्देश दिया कि आज और कल 13 फरवरी को यहां पुलिस का जाता बड़ी मात्रा में लगाया जाए। किसानों के आवागमन और हर एक्टिविटी पर नजर रखी जाए। अगर किसान दिल्ली के लिए जाते हैं, तो उन्हें रोका जाए। एसपी के साथ नीमराना एएसपी जगराम मीणा, बहरोड डीएसपी तेज पाठक, शाहजहांपुर थाना अधिकारी रामकिशोर शर्मा मौजूद रहे।

'अभी हाईवे पर धरना देने की तैयारी नहीं है'

बहरोड पंचायत समिति के पूर्व प्रधान और भारतीय किसान यूनियन जिला अध्यक्ष नंदराम ओला (Farmer Protest) ने कहा कि अभी हाईवे पर धरना देने जैसी कोई तैयारी नहीं है। अभी दिल्ली जाने का कार्यक्रम भी नहीं है। हालांकि दो-तीन दिन बाद दिल्ली कूच का प्लान किया जा रहा है। नों ने इसे 'चलो दिल्ली मार्च' का नाम दिया है, लेकिन इसे किसान आंदोलन भी कहा जा रहा है। इस किसान आंदोलन का पैटर्न 2020-2021 में हुए किसान आंदोलन से काफी मिलता जुलता हो सकता है। पिछली बार की तरह ही अलग-अलग राज्यों से किसान इस आंदोलन में शामिल होने वाले हैं।