Connect with us

International

गले पर इस जीव के बैठने से हुई एक शख्स की मौत

Published

on

  • गले पर बैठा हुआ था चमगादड़
  • शख्स ने वैक्सीन लगवाने से किया था मना
  • रेबीज है एक वायरल इंफेक्शन

 

अमेरिका के इलिनॉय राज्य में एक शख्स ने रेबीज की वजह से दम तोड़ दिया। स्वास्थय अधिकारियों का कहना है कि ये 67 साल में पहला ऐसा केस है जिसमें रेबीज के कारण किसी की मौत हुई। इस मामले को लेकर ये कहा जा रहा है कि एक शख्स जब सोकर उठा तो उसके गले पर एक चमगादड़ बैठा हुआ था।

डेली मेल ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि जिस शख्स की मौत हुई है उसकी उम्र 80 साल से अधिक थी। बताया जा रहा है कि मृत शख्स एक महिने पहले एक चमगादड़ के संपर्क में आया था जिसके बाद उसकी मंगलवार को मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि शख्स ने वैक्सीन लगवाने से भी मना कर दिया था।

अमेरिका की स्वास्थ्य संस्था सीडीसी इसकी जांच पर पाया कि शख्स रेबीज की बीमारी से संक्रमित है। संक्रमित व्यक्ति को सिर और गले में दर्द, शरीर में अकड़न और बोलने में दिक्कत होने जैसी समस्याएं सामने आई थी।

एक्सपर्ट का कहना है कि जब रेबीज से संक्रमित किसी भी व्यक्ति में जब इसके लक्षण दिखने लगते है तब तक काफी देर हो जाती है। जब किसी व्यक्ति में रेबीज के लक्षण देखे जाते है तो कुछ ही हफ्तों में उसकी मौत हो जाती हैं। हालांकि समय पर बेहतर इलाज मिलने के कारण संक्रमित मरीज की जान भी बच सकती है। लेकिन इसके लिए जरुरी है कि संक्रमण के तुरंत बाद ही मरीज का ट्रीटमेंट हो सके।

कैसे फैलता है रेबीज

Advertisement

WHO की माने तो रेबीज एक वायरल इंफेक्शन है जो नर्वस सिस्टम और दिमाग को प्रभावित करता है। रेबीज का वायरस करीब 20 से 60 दिन तक शरीर में रह सकता है। इस वायरस का इलाज नहीं मिलने पर इसकी मृत्यु दर भी काफी ज्यादा है। रेबीज का वायरल जानवरों से इंसानों में फैलता है। ये ज्यादातर जानवरों के नोंचने और काटने से फैलता है। इसके अलावा अगर किसी घाव पर रेबीज संक्रमित जानवार की लार अगर लग जाए तब भी इससे संक्रमण फैल सकता है।

 

Share Post:
Advertisement
Address : IND24, Plot No. 35, Indira Press Complex,
MP Nagar, Zone – 1, Bhopal (MP) 462011

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel. Website Design & Developed By Shreeji Infotek