Connect with us

International

चीन ने किया सबसे लंबा स्पेस मिशन शुरू, अंतरिक्ष में यात्री रहेंगे 183 दिन

Published

on

Share Post:
  • चीन के 3 अंतरिक्ष यात्री स्पेस स्टेशन पहुंचे
  • झाई झिगांग मिशन के कमांडर होंगे
  • स्पेस स्टेशन 10 सालों तक करेगा काम
  • मिशन की शुरूआत 2022 तक होगी

 

चीन के 3 अंतरिक्ष यात्री शनिवार को चीन के नए स्पेस स्टेशन पर उतरे। इसे चीन के नए स्पेस प्रोग्राम से जोड़कर एक बड़ा और अहम कदम माना जा रहा है। चीन के स्थानीय समय के अनुसार रात 12 बजे के बाद मंगोलिया के गोबी रेगिस्तान में जियुकुयान सैटेलाइट को लॉन्च सेंटर से लॉन्ग मार्च 2F रॉकेट पर शेंझोऊ-13 स्पेसक्राफ्ट को लॉन्च किया।

लॉन्च होने के लगभग 6:30 घंटे बाद यह स्पेसक्राफ्ट तियांगोंग स्पेस स्टेशन पर उतरा। अंतरिक्ष यात्री यहां पर करीब 183 दिन रहेंगे और काम करेंगे। यह चीन का अब तक का सबसे लंबा मिशन बताया जा रहा है। चीन की भाषा में तियांगोंग का मतलब जन्नत अर्थात स्वर्गीय महल होता है।

इस क्रू में झाई झिगांग, वांग यापिंग और यी गुआन्फू शामिल हैं ये तीनों बीजिंग के अब तक के सबसे लंबे क्रू मिशन पर पहुंचे हैं। स्टेशन में अगर कोई तकनीकी समस्या आती है तो ये सब मिलकर उसकी टेस्टिंग करेंगे और साथ ही में उस स्टेशन पर स्पेसवॉक भी करेंगे। इस क्रू में एक महिला एसट्रोनॉट को भी शामिल किया गया है।

Advertisement

यी गुआन्फू के लिए यह पहला स्पेस मिशन होगा

इसमें झाई झिगांग मिशन के कमांडर होंगे। उन्होंने 2008 में चीन की पहली स्पेसवॉक की थी। चीन सरकार की तरफ से झाई को स्पेस हीरो की उपाधि दी गई है। यी गुआन्फू के लिए यह उनका पहला स्पेस मिशन होगा। वह फिलहाल मिलिट्री की एस्ट्रोनॉट ब्रिगेड में दूसरे लेवल के एस्ट्रोनॉट हैं। क्रू की महिला सदस्य वांग यापिंग ने 2013 में एक मिशन में हिस्सा लिया था, जिसकी सफलता के लिए उन्हें सम्मानित किया गया था। वह अंतरिक्ष में जाने वाली अभी तक चीन की पहली महिला एस्ट्रोनॉट होंगी और स्पेसवॉक करने वाली भी पहली चीनी महिला होंगी।

चीन ने तेजी से स्पेस क्षेत्र में पैसा लगाया है

Advertisement

चीन के पिछले दो दशक को देखा जाए तो चीन ने तेजी से स्पेस क्षेत्र में पैसा लगाया है। चीन ने मंगल ग्रह पर रोवर को लैंड कराया और चांद की सतह पर अपने मिशन को रवाना किया। ये स्पेस स्टेशन कम से कम 10 सालों तक काम करने वाला है। इसका मुख्य मॉड्यूल इस साल की शुरुआत में ऑर्बिट में प्रवेश कर गया। इस स्टेशन के मिशन की शुरूआत 2022 तक होने की उम्मीद जताई जा रही है पूरा स्टेशन सोवियत मीर स्टेशन के जैसा दिखाई देगा। जिसने 1980 से लेकर 2001 तक पृथ्वी की परिक्रमा की थी।

Share Post:
Advertisement
Advertisement
Address : IND24, Plot No. 35, Indira Press Complex,
MP Nagar, Zone – 1, Bhopal (MP) 462011

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel.