Connect with us

Chhattisgarh

उसना चावल को लेकर छग और केंद्र सरकार में टकराव, केंद्र ने उसना चावल लेने से किया मना

Published

on

Share Post:
  • राज्य सरकार की बढ़ी मुश्किलें
  • करीब 500 राइस मिल हो जाएंगी बंद
  • पहले की सरकारें अरवा,उसना चावल लेती थी
  • केंद्र सरकार ने चावल नहीं लेने का फरमान दिया

 

उसना चावल को लेकर छत्तीसगढ़ और केंद्र सरकार के बीच एक बार फिर टकराव देखने को मिल रहा है । केंद्र सरकार ने उसना चावल लेने से मना कर दिया है । जिससे राज्य सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं । पिछले दिनों खाद्य मंत्री अमरजीत भगत दिल्ली भी गए थे, लेकिन केंद्रीय खाद्य मंत्री से उनकी मुलाकात नहीं हो पाई । इस मामले को लेकर मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि पहले की सरकारें अरवा और उसना दोनों चावल लेती थीं, लेकिन इस बार केंद्र ने उसना चावल नहीं लेने का फरमान जारी कर दिया है । उन्होंने कहा कि अगर केंद्र सरकार उसना चावल नहीं लेगी तो किसान को सीधा नुकसान होगा । करीब 500 राइस मिल बंद हो जाएंगी।केन्द्र सरकार मिलने का समय भी नहीं दे रही है ।

वहीं उसना मिलर तैयार हो जाते हैं क्योंकि उन्हें नुकसान नहीं होता। यदि उसना चावल नहीं लिया गया तो मोटा धान का उठाव कमजोर रहेगा। बड़ी मात्रा में धान बचेगा और वह फिर संग्रहण केंद्रों में सड़ेगा। केंद्र सरकार के तहत संचालित एफसीआई ने इस बार उसना चावल लेने से मना कर दिया है। इसकी वजह से उसना राइस मिल के संचालक परेशान हो गए हैं। यही वजह है कि एक दिन पहले उन्होंने सांसद अरुण साव और  विधानसभा  के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक से मुलाकात कर केंद्र सरकार से उसना चावल लेने के लिए अनुशंसा कराने की  मांग की। दोनों नेताओं ने राइस मिलर्स को केंद्रीय खाद्य मंत्री से बात करने का आश्वासन दिया है।

Advertisement
Share Post:
Address : IND24, Plot No. 35, Indira Press Complex,
MP Nagar, Zone – 1, Bhopal (MP) 462011

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel.