H

चौधरी चरणसिंह को भारत रत्न देने पर सामने आई CM Bhajanlal की प्रतिक्रिया, बोले- 'कांग्रेस को सिर्फ एक परिवार से ही प्यार रहा है'

By: payal trivedi | Created At: 10 February 2024 02:56 PM


नागौर में गांव चलो अभियान का शुभारंभ करने के बाद मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा जोधपुर रवाना हो गए। इससे पहले मुख्यमंत्री ने पूर्व पीएम नरसिम्हा राव, चौधरी चरण सिंह व एमएस स्वामीनाथन को भारत रत्न देने पर पीएम मोदी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

banner
Jodhpur: नागौर में गांव चलो अभियान का शुभारंभ करने के बाद मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा (CM Bhajanlal) जोधपुर रवाना हो गए। इससे पहले मुख्यमंत्री ने पूर्व पीएम नरसिम्हा राव, चौधरी चरण सिंह व एमएस स्वामीनाथन को भारत रत्न देने पर पीएम मोदी का धन्यवाद ज्ञापित किया। मुख्यमंत्री ने कहा- देश और समाज की सेवा करने वाले तीन महान लोगों को भारत रत्न देने पर पीएम मोदी का धन्यवाद और साधुवाद। चौधरी चरण सिंह किसानों के सबसे बड़े मसीहा थे। उन्होंने किसानों के लिए बड़े काम किए। नेहरू के वक्त चौधरी चरण सिंह की तूती बोलती थी। किसानों के लिए उन्होंने आवाज उठाई तो इसका खामियाजा भी उठाया। यूपी के मंत्रिमंडल में उनका विभाग चेंज कर कमजोर विभाग दिया गया। उन्हें भारत रत्न देना देश के हर किसान का सम्मान है। किसान हित के लिए उन्होंने लड़ाई लड़ी।

'कांग्रेस को सिर्फ एक परिवार से ही प्यार रहा है'

पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हाराव के लिए सीएम ने कहा कि कांग्रेस के लोग उनका दाह संस्कार दिल्ली में नहीं होने दे रहे थे। कांग्रेस को सिर्फ एक परिवार से ही प्यार रहा है। इसी तरह स्वामीनाथन ने भी देश और समाज के लिए काम किया। इन्हें भारत रत्न रत्न देने पर पीएम को बधाई, धन्यवाद और साधुवाद। मुख्यमंत्री ने नागौर के गोगेलाव गांव में रात्रि विश्राम किया। दो दिवसीय दौरे के बाद शनिवार को सीएम भजनलाल नागौर हवाई पट्टी से जोधपुर के लिए रवाना हुए। जोधपुर रवाना होने से पहले सीएम ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता मोहित बागड़िया के घर किसानों के साथ चाय पर चर्चा की। उन्होंने गोगेलाव के तालाब के पास पौधारोपण किया और नागौर के एमडीएच पार्क में निरीक्षण किया। गणेश सुथार के घर रात्रि विश्राम कर सीएम शनिवार सुबह मकान की छत पर मॉर्निंग वॉक की। नागौर का पारंपरिक नाश्ता किया। इसके बाद सीएम भजनलाल तैयार होकर सींगड़ गांव पहुंचे। गांव में सीएम ने खटिया पर बैठकर ग्रामीणों से खेती को लेकर चर्चा की और चाय पी।

ग्रामीणों के साथ की चाय पर चर्चा

चाय पर चर्चा में ग्रामीणों ने कहा कि इस इलाके (CM Bhajanlal) में पानी खारा है इसलिए तालाब पर निर्भर हैं। तीन तरीके की भूमि है इसलिए सिंचाई के लिए पूरे जिले में अलग-अलग स्थितियां हैं। ग्रामीण बोले, हम 3 महीने खेती करते हैं। फिर बेरोजगार हो जाते हैं। पानी की व्यवस्था हो जाए तो हमारे गांवों से पलायन रुक जाए। इस पर सीएम ने हर घर नल से जल योजना के तहत व्यवस्था करने की बात कही। सीएम भजनलाल ने कहा कि हम सबको पीएम मोदी ने गांवों में भेजा है। गांवों में लघु-कुटीर उद्योगों का विकास करके गांवों की परंपरागत तकनीक को मुख्यधारा से जोड़ना है। सीएम ने विश्वकर्मा योजना का उदाहरण देते हुए कहा कि ग्रामीण अंचल के कौशल हमारी पहचान रहे हैं।

गांव के बजट पर चर्चा

सीएम भजनलाल ने ग्रामीणों गांवों की बसावट पर भी चर्चा की। सीएम बोले कि मैंने देखा कि यहां गांव दूर-दूर बसे हुए हैं। हमारी (भरतपुर) तरफ तो गांव लगातार ही बसे हुए हैं। ग्रामीणों ने बताया कि जल की विषमता भी इसका एक कारण है। इसके बाद सीएम ग्रामीणों के साथ ग्रुप फोटो खिंचवाकर रवाना हो गए।

गोगेलाव गांव के तालाब के पास किया पौधारोपण

सीएम भजनलाल शर्मा ने नागौर जाने से पहले गोगेलाव गांव के तालाब के निकट पौधारोपण किया। इसके बाद सीएम भजनलाल गाड़ी से नागौर स्थित एमडीएच पार्क पहुंचे। पार्क में निरीक्षण के बाद सीएम भजनलाल ने हवाई पट्टी पर बने स्वागत कक्ष में भाजपा पदाधिकारियों से मुलाकात की। पदाधिकारियों से मुलाकात के बाद सीएम भाजपा कार्यकर्ताओं से मिलते हुए हेलिकौप्टर से जोधपुर के लिए रवाना हो गए।

हवाई पट्‌टी पर हल्के-फुल्के अंदाज में दिखे सीएम

जोधपुर रवाना होने से पहले हवाई पट्टी पर सीएम भजनलाल शर्मा (CM Bhajanlal) काफी हंसी-मजाक के अंदाज में दिखे। उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा कि जब भी जयपुर रहूं तो आकर मिलो। कभी भी आओ क्योंकि देर रात तक सोता हूं और सुबह जल्दी उठ जाता हूं।