H

CG NEWS : पहले स्लीपर सेल थे अब बी टीम बने आवाज उठाने वाली कांग्रेसी बयान देने वाले कांग्रेसी है बी टीम के लोग - दीपक बैज..

By: Shivani Hasti | Created At: 01 April 2024 06:13 PM


banner
CG NEWS : छत्तीसगढ़ कांग्रेस में नाराजगी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है बीते दिनों प्रदेश प्रभारी सचिन पायलट ने बैठक लेकर नाराज कार्यकर्ताओं को मनाने निर्देश दिए थे। लेकिन नाराज कार्यकर्ताओं को मनाने के बजाय अब पार्टी उन्हें बी टीम का हिस्सा बताने लगी है. जिसके बाद प्रदेश की सियासत में एक बार फिर बयानबाजी का दौर शुरु हो गया है। खुद का भरोसा खोती जा रही कांग्रेस कार्यकर्ताओं को कभी स्लीपर सेल कह रही है तो कभी बी टीम का हिस्सा. पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीते दिनों बयान में क्या कुछ कहा पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जहां कार्यकर्ताओं को स्लीपर सेल कह रहे है। तो वहीं अब कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज ने नाराज कार्यकर्ताओं को बी टीम का हिस्सा बताया है। दीपक बैज ने कहा कि कुछ बयानबाजी नाराजगी हो सकती है. कुछ बयानबाजी प्री प्लानिंग भी है हम नाराजगी दूर कर सकते हैंअगर कोई प्री प्लानिंग के साथ कर रहा है उसे कैसे दूर कर सकते है. किसी के कहने पर बी टीम के रूप में काम कर रहे है।

Read More: CG NEWS : कांग्रेस की प्रेस वार्ता पर मंत्री केदार कश्यप का तीखा पलटवार, कांग्रेस फिर से युवाओं के साथ न्याय की नई घोषणाएं कर रही हैं....

छत्तीसगढ़ में 5 साल कांग्रेस की सरकार रही. इस दौरान जनता को साधने तमाम उपाय किए गए. कांग्रेस जहां जनता को साधने में लगी रही तो वहीं कार्यकर्ताओं को दरकिनार करने का भी अब जमकर आरोप लग रहा है ऐसे में सरकार जाने के बाद आवाज भी जमकर उठने लगी है। कार्यकर्ताओं की नाराजगी को अब कांग्रेस षड्यंत्र बताने में लगी हुई है। वहीं इसे लेकर बीजेपी ने भी तंज कसा है. उप मुख्यमंत्री अरुण साव ने कहा कि कांग्रेस को अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर भरोसा नहीं रहा। किसी को बी-टीम किसी को स्लीपर सेल बता रहे हैं. यह बताता है वरिष्ठ नेताओं को कार्यकर्ताओं पर भरोसा नहीं रहा। जो समझदार लोग हैं वे डूबती नैया से लगातार बाहर आ रहे हैं। लोकसभा चुनाव को लेकर जमीनी स्तर पर तैयारी लगातार जारी है. प्रदेश में बीजेपी कांग्रेस रणनीति के तहत मैदान में उतर रही है। ऐसे में कांग्रेस में बड़ी चुनौती नाराज कार्यकर्ताओं को साधने की है। लगातार विरोध के स्वर उठ रहे है. इन विरोध के स्वर को बड़े नेता स्लीपर सेल और बी टीम का हिस्सा बताने में लगे हुए है ऐसे में लोकसभा चुनाव में मजबूती के साथ खड़े होना कांग्रेस के लिए एक बड़ी चुनौती है।