Connect with us

Tech & Auto

हैकर्स Ransomware अटैक के जरिए कर रहे लोगों से ठगी, बचने के लिए बरतें ये सावधानी

Published

on

Share Post:

हर घर में बेसिक फोन की जगह स्मार्टफोन ने अपनी जगह बना ली है। इन स्मार्टफोन से एक तरफ हमें कई फायदे होते हैं, तो वहीं दूसरी तरफ इससे हमें कई नुकसानों का सामना भी करना पड़ता है। स्मार्टफोन के ज्यादा टेक्नीक और फीचर्स की ज्यादा जानकारी नहीं होने से ठग इसका फायदा उठाते हैं और ठग कभी वायरस तो कभी आपके फोन को रिमोट पर लेकर आपके बैंक अकाउंट को चूना लगा देते हैं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले कुछ महीनों से Ransomware अटैक के जरिए कई लोगों को चूना लगाया जा रहा है। यहां हम आपको बताएंगे आखिर क्या होता है Ransomware और ठग कैसे इससे फंसाते हैं, इससे कैसे बचा जा सकता है।

मिडिल्ड एज्ड और बुजुर्ग को बनाया जा रहा निशाना

Advertisement

ग्लोबल रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले कुछ महीने से हैकर्स Ransomware के जरिए लोगों को निशाना बना रहे हैं। इसके लिए वे Instagram और TikTok जैसे ऐप का सहारा ले रहे हैं। साइबर एक्सपर्ट का कहना हैं कि हैकर्स इस काम के लिए 65+ उम्र या 25 से 35 साल के उम्र वालों को ज्यादा अपने जाल में फंसा रहे हैं। इनमें भी वे लोग इनके निशाने पर होते हैं जो लैपटॉप या कंप्यूटर से ऑनलाइन आते हैं। वहीं मोबाइल पर रहने वालों को मोबाइल बैंकिंग Trojans, एडवेयर डाउनलोडर और FlutBot SMS स्कैम के जरिए फंसाया जाता है। जाल में फंसाने के बाद लोगों से पैसों की मांग की जाती है।

फोन अनलॉक करने के लिए की जाती है रुपयों की मांग

ठग आपको Instagram और TikTok के जरिए मैलिशियस लिंक के साथ कोई मैसेज भेजते हैं। जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करते हैं, आपके फोन में मैलिशियस ऐफ इंस्टॉल हो जाता है और हैकर्स उसके फोन को अपने कंट्रोल में लेने के बाद फोन को अनलॉक करने के बदले रुपयों की मांग करते है।

Advertisement

कंपनी 1.46 मिलियन Ransomware अटैकर को कर चुकी है ब्लॉक

Avast Threat Labs डेटा के अनुसार, कंपनी हर महीने औसतन 1.46 मिलियन Ransomware अटैक करने वालों को ब्लॉक कर रही है। Ransomware अटैक में FlutBot तेजी से फैल रहा है।

ये सावधानी बरतें

Advertisement
  • फोन में सबसे पहले कोई अच्छा एंटीवायरस ऐप इंस्टॉल करें। आपको कई ऐसे अच्छे एंटीवायरस ऐप मिल जाएंगे जो फ्री सर्विस देते हैं।
  • चाहे फोन हो या कंप्यूटर हो, इनमें मौजूद डेटा को ऑफलाइन हार्डवेयर में भी संभालकर रखें। अगर फोन हैक भी हो जाए तो डेटा के लिए आपको हैकर्स की मनमानी नहीं सहनी पड़ेगी।
  • अपने कंप्यूटर पर विंडो अपडेट्स लगातार करते रहें।
  • कंप्यूटर या लैपटॉप का सर्वर और मैसेज को ब्लॉक करके रखना चाहिए।
  • आप इसके अलावा माइक्रोसॉफ्ट का लेटेस्ट पैच भी इनस्टॉल कर सकते हैं।
  • मोबाइल, कंप्यूटर, जीमेल, मैसेज व सोशल मीडिया पर आने वाले किसी भी संदिग्ध लिंक को क्लिक न करें।
Share Post:
Advertisement
Advertisement
Address : IND24, Plot No. 35, Indira Press Complex,
MP Nagar, Zone – 1, Bhopal (MP) 462011

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel.