Connect with us

Health & wellness

अपने दिल को बीमारियों से बचाना है, तो इन 5 फूड्स को डाइट में जरूर शामिल करें

Published

on

दिल की बीमारियों से बचे रहने के लिए अच्छी डाइट लेने की सलाह तो दी जा रही है, लेकिन हार्ट को हैल्दी रखने के लिए किस तरह के फूड्स को डाइट शामिल करें इसकी भी जानकारी होनी जरुरी है।आज ऐसे 5 फूड्स के बारे में जानेंगे ।

  • हार्ट हैल्दी रखने के लिए नियमित व्यायाम जरुर करें।
  • बैड कोलेस्ट्राल को कम करें।
  • हरी पत्तेदार सब्जियां अपनी डाइट में शामिल करें।

World Heart Day Wallpapers - HD WALLPAPERS

हार्ट को हेल्दी बनाए रखने में कुछ फूड आइटम्स सुपरफूड की कैटेगरी में शामिल हैं क्योंकि इनमें ऐेसे तत्व मौजूद होते हैं जो बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करके हार्ट प्रॉब्लम्स के रिस्क को काफी हद तक घटा देते हैं।

1.हरी पत्तेदार सब्जियां

अपने दिल को दुरुस्त रखने के लिए हरी सब्जियों को डाइट में शामिल करें, क्योंकि इनमें मौजूद फाइबर  बैड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने नहीं देता। जिससे दिल की बीमारियों का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। हरे पत्तेदार सब्जियों में पालक, साग, हरी प्याज, ब्रोकली जैसी सब्जियों को शामिल कर सकते हैं जिसे बनाना भी आसान है।

2. ऑलिव ऑयल

Advertisement

भारतीय खानपान सरसों तेल या फिर रिफाइंड ऑयल ज्यादातर इन्हीं दो तेल में पकाए जाते हैं। लेकिन अगर आप दिल से जुड़ी बीमारियों का रिस्क कम करना चाहते हैं तो ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल करें क्योंकि ये बॉडी में बैड कोलेस्ट्रॉल कम करके गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ाता है।

3.अखरोट

ज्यादातर नट्स विटामिन ई, मोनो अनसैचुरेटेड फैट्स और अन्य नेचुरल न्यूट्रिएंट्स से भरपूर होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल के साथ ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल में रखते हैं। इनमें अखरोट सबसे ज्यादा फायदेमंद हैं क्योंकि इसमें प्लांट बेस्ड ओमेगा-3 फैटी एसिड्स होते हैं। आप इसे ऐसे भी खा सकते हैं या फिर चाहें तो फ्रूट सैलेड, ओटमील, म्यूस्ली में भी डालकर खा सकते हैं।

4.साबुत अनाज

साबुत अनाज में बॉडी के लिए जरूरी विटामिन्स, मिनरल्स और अच्छी-खासी मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जो हार्ट को हेल्दी रखने के साथ ही बैड कोलेस्ट्रॉल को भी बढ़ने नहीं देते। तो नाश्ते में म्यूस्ली, ओटमील खाना बहुत ही फायदेमंद है।

Advertisement

5. सेब

एक सेब एक दिन डॉक्टर को दूर रखता है। ये तो आपने सुना होगा। रोजाना एक सेब खाने से आप कई तरह की  बीमारियों से बचे रह सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें फाइटोकेमिकल जिसे क्वेरसेटिन नाम से भी जाना जाता है एक नेचुरल एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व मौजूद होता है जो ब्लड क्लॉटिंग की समस्या से बचाता है।

 

 

 

Advertisement

 

Share Post:
Advertisement

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel. Website Design & Developed By Shreeji Infotek