Connect with us

Business

भारत को तेजी से सुधार के लिए हरित सार्वजनिक निवेश पर ध्यान देना चाहिए: आईएमएफ

Published

on

Share Post:

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने बुधवार को कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था COVID-19 महामारी के प्रभावों से उबर रही है। अर्थव्यवस्था को COVID से हुए नुकसान से तेजी से ऊबारने के लिए देश को विशेष रूप से ग्रीन पॉवर सेक्टर में सार्वजनिक निवेश पर ध्यान देना चाहिए।

आईएमएफ के वित्तीय मामलों के विभाग के उप निदेशक पाओलो मौरो ने एक प्रेस कॉफ्रेंस के दौरान मीडिया से कहा कि जैसे-जैसे हम कलेक्सन की ओर बढ़ते हैं तो ग्रीन सेक्टर ही है जो सबसे किफायती रिर्टन दे रहा है और ग्रीन सेक्टर पर्यावरण साथी भी है।

उन्होंने कहा कि भारत का कर्ज लगभग 90 प्रतिशत के अनुपात में है, और भारत को यह संकेत देना महत्वपूर्ण है कि भारत मीडियम फिसकल का राजकोषीय ढांचा है। जहां निवेश ही यह सुनिश्चित करता है कि मध्यम अवधि में ऋण अनुपात में गिरावट कितनी तेजी से आएगी।

Advertisement

महामारी से अर्थव्यवस्था पर असर के एक सवाल के जवाब में मौरो ने कहा स्थिति में सुधार है। यह कुछ महीने पहले से बहुत अलग है। उन्होंने कहा कि सौभाग्य से मामलों की संख्या घट रही है और टीकाकरण अधिक प्रभावी रुप से हो रहा है।

कोरोना को ध्यान में रखते हुए पाओलो ने कहा कि आर्थिक मोर्चे पर भले ही स्थिति में सुधार हो रहा है लेकिन स्वास्थ्य आपातकाल की स्थिति अभी भी बनी हुई है। इसीलिए, हमें गरीब तबके को पर्याप्त सामाजिक सुरक्षा, रोजगार ,लाभ आदि सहायता प्रदान करने के साथ कोरोना प्रोटोकॉल को भी ध्यान में रखना है।

Advertisement
Share Post:
Advertisement
Advertisement
Address : IND24, Plot No. 35, Indira Press Complex,
MP Nagar, Zone – 1, Bhopal (MP) 462011

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel.