H

14 से 17 फरवरी के बीच आ रहा पश्चिमी विक्षोभ, 75 घंटे टूटकर बरसेंगे बादल

By: Sanjay Purohit | Created At: 13 February 2024 11:43 AM


देश के अलग-अलग हिस्सों में बने चक्रवातीय घेरों से शहर का मौसम बदल गया।

banner
देश के अलग-अलग हिस्सों में बने चक्रवातीय घेरों से शहर का मौसम बदल गया। सोमवार को दक्षिण पूर्वी हवा चलने से दिन में बादल छाने से हल्की सर्दी का अहसास हुआ और अधिकतम तापमान सामान्य से 1.2 डिग्री सेल्सियस (डिसे) कम रहा। रात में भी कड़ाके की ठंड रही, लेकिन अब रात के तापमान में उछाल आने की संभावना है, जिससे रात में सर्दी घटेगी। 15 फरवरी तक सर्दी से राहत रहने वाली है। उसके बाद दो दिन के लिए हवा का रुख बदलेगा।

17 फरवरी को नया पश्चिमी विक्षोभ

सर्दी की दस्तक होगी। 17 फरवरी को नया पश्चिमी विक्षोभ आ रहा है। इसके असर से मौसम बदल सकता है। शहर सहित अंचल में दक्षिण पूर्वी हवा चल रही है। यह हवा बंगाल की खाड़ी व अरब सागर से नमी लेकर आ रही है। इससे बादल छा गए और सूरज का जोर कमजोर पड़ गया। इससे सर्दी का अहसास हुआ। हालांकि बारिश की संभावना नहीं है। यह सिस्टम उत्तर प्रदेश की ओर जा रहा है।

ये सिस्टम सक्रिय, जिससे बदला है मौसम

जम्मू कश्मीर में कमजोर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इससे उत्तर हवा थम गई है।

पंजाब, गुजरात, मराठवाड़ा, विदर्भ में चक्रवातीय घेरे बने हैं। इन घेरों की वजह से दक्षिण पूर्वी हवा चल रही है। इससे नमी आ रही है। जिससे बादल छाए।

ये सिस्टम दो दिन में कमजोर पड़ जाएंगे। कई जिलों में तेज बारिश की संभावनाएं भी व्यक्त की जा रही हैं। IMD की चेतावनी भी घोषित की गई है।