H

सितंबर में जारी होगी कांग्रेस उम्मीदवारों की लिस्ट, कई विधायकों के टिकट पर संकट, नए चेहरों पर फोकस

By: Ramakant Shukla | Created At: 29 August 2023 07:25 AM


मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर राजनैतिक पार्टियों की तैयारियां जोरों पर चल रही है एक तरफ बीजेपी कुर्सी बचाने की रणनीति पर काम कर रही है तो सत्ता में वापसी पर कांग्रेस का फोकस बना हुआ है। बीजेपी ने 2018 में हारी 39 सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए है और अब सितंबर में दूसरी लिस्ट जारी करने की तैयारी है। वही दूसरी तरफ प्रत्याशियों के नामों को लेकर कांग्रेस में भी मंथन तेज हो चला है, संभावना जताई जा रही है कि 15 सितंबर तक प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर दिया जाएगा।

bannerAds Img
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर राजनैतिक पार्टियों की तैयारियां जोरों पर चल रही है एक तरफ बीजेपी कुर्सी बचाने की रणनीति पर काम कर रही है तो सत्ता में वापसी पर कांग्रेस का फोकस बना हुआ है। बीजेपी ने 2018 में हारी 39 सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए है और अब सितंबर में दूसरी लिस्ट जारी करने की तैयारी है। वही दूसरी तरफ प्रत्याशियों के नामों को लेकर कांग्रेस में भी मंथन तेज हो चला है, संभावना जताई जा रही है कि 15 सितंबर तक प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर दिया जाएगा।

कट सकते है कई विधायकों के टिकट, नए चेहरों को मौका देने का प्लान

कांग्रेस भी जातिगत और क्षेत्रीय समीकरणों पर फोकस कर रही है, इसके लिए अलग अलग स्तर पर सर्वे भी करवाया गया है। सर्वे में जिनका नाम आगे होगा, उन्हें टिकट मिलेगा।सूत्रों की मानें तो इस बार एक दर्जन विधायकों के टिकट काटे जा सकते है, इसका कारण कांग्रेस की अंदरूनी खींचतान और सर्वे रिपोर्ट की खराब स्थिति शामिल है, इसके बजाय नए और युवा चेहरों को मौका दिया जा सकता है।

जिताऊ उम्मीदवारों पर फोकस

खबर है कि मालवा को मजबूत करने के लिए BJP से कांग्रेस में आए पूर्व मंत्री दीपक जोशी को खातेगांव से मैदान में उतारा जा सकता है, वही हाटपिपल्या से उपचुनाव हारने वाले राजवीर सिंह को दोबारा मौका दिया जा सकता है। इसके अलावा कांग्रेस में जिताऊ और पिछली बार कम अंतर से हारे उम्मीदवार पर भी मंथन चल रहा है। खास करके उन सीटों पर फोकस किया जा रहा है, जिन पर 2018 में कांग्रेस कमजोर हुई थी और जिन पर वर्तमान में कांग्रेस विधायकों की स्थिति मजबूत है, कोई खींचतान या भितरघात का खतरा नहीं।

15 सितंबर तक आ सकती है लिस्ट

2 सितंबर को भोपाल में कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक होने वाली है, जिसमें सर्वे रिपोर्ट के साथ ही जिलास्तर पर संगठन के पदाधिकारियों के फीडबैक पर मंथन किया जाएगा और उम्मीदवार के नामों पर अंतिम मुहर लगाई जाएगी, ऐसे में माना जा रहा है कि कांग्रेस 10-15 सितंबर तक 100 से ज्यादा नामों की पहली लिस्ट जारी कर सकती है। खबर तो यह भी है कि इस पर कई सीटों पर चौंकाने वाले नाम भी हो सकते है।