H

एमपी में मौसम का मिजाज फिर बदला

By: Sanjay Purohit | Created At: 23 March 2024 12:11 PM


प्रदेश के ज्यादातर जिलों में गर्मी का असर शुरू हो गया है। मौसम विभाग के अनुसार, शनिवार से एक नया सिस्टम एक्टिव हो रहा है लेकिन एमपी में इसका ज्यादा असर देखने को नहीं मिलेगा।

banner
मध्य प्रदेश में ओले-बारिश का दौर थमने के बाद मौसम ने फिर करवट ली है। बारिश रुकने के एक दिन बाद ही प्रदेश का अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया। नर्मदापुरम और दमोह में सबसे ज्यादा गर्मी महसूस की गई। शुक्रवार को प्रदेश में सबसे गर्म जिला नर्मदापुरम रहा, जहां अधिकतम तापमान 38.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। जबकि दमोह में तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। अधिकांश जिलों का तापमान 34 डिग्री सेल्सियस के ऊपर ही दर्ज हुआ। शुक्रवार को ऐसा पहली बार हुआ है, जबकि इस सीजन में अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार पूरी संभावना है कि मार्च की आखिरी में प्रदेश का तापमान 40 डिग्री सेल्सियस को छू सकता है

कैसा रहेगा शनिवार का मौसम

मौसम विभाग ने शनिवार के लिए भी प्रदेश की अधिकतम तापमान में 2 से 4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होने का संभावना जताई है। शनिवार को प्रदेश के सभी स्थानों का मौसम शुष्क बने रहने की संभावना जताई गई है। वहीं, भोपाल में अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस तो न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस तक रहने का अनुमान जताया गया है।

मौसम वैज्ञानिकों ने अनुमान जताया है कि मध्य प्रदेश में मार्च के आखिरी सप्ताह में गर्मी के तेवर सख्त हो सकते हैं। हालांकि आज से प्रदेश में एक और नया मौसम तंत्र पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है। लेकिन इसका मौसम पर ज्यादा प्रभाव पड़ने की गुंजाइश नजर नहीं आ रही है।