H

भोजशाला ASI सर्वे : खुदाई में निकली भगवान नारायण की मूर्ति, 3 और अद्भुत अवशेष भी मिले, हनुमान चालीसा का पाठ शुरु

By: Sanjay Purohit | Created At: 25 June 2024 08:28 AM


भोजशाला परिसर में जारी एएसआई सर्वे के 95वें दिन उत्तरी भाग में की गई खुदाई के दौरान 4 पुरावशेष मिले हैं। हिंदू पक्ष के दावे के अनुसार, खुदाई के दौरान भगवान नारायण की मूर्ति और भोजशाला की दीवारों और स्तंभों के 3 अवशेष निकले हैं।

bannerAds Img
मध्य प्रदेश में धार जिले में स्थित ऐतिहासिक भोजशाला वर्सेज कमाल मौला मस्जिद में हाईकोर्ट के आदेश के बाद से जारी भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण टीम के सर्वे का सोमवार को 95वां दिन गुजरा। एएसआई टीम द्वारा सर्वे कार्य उत्तरी भाग में किया गया। इसमें 4 पुरावशेष मिले हैं। इनमें सबसे अहम ये कि खुदाई के दौरान जमीन से भगवान नारायण की मूर्ति और भोजशाला की दीवारों और स्तंभों के तीन अवशेष हैं। अब सर्वे पूरा होने में सिर्फ तीन दिन का समय बाकी है। 27 जून को सर्वे का अंतिम दिन है।

इसके बाद सर्वेक्षण टीम को 1 जुलाई तक पूरे दस्तावेज तैयार करने हैं और 2 जुलाई को इसकी एक संयुक्त रिपोर्ट मध्य प्रदेश हाईकोर्ट की इंदौर खंडपीठ में पेश करनी है। सोमवार को सुबह 8 से शाम 5 बजे तक उत्तरी दिशा में सर्वे कार्य किया गया। जबकि, आज मंगलवार होने के चलते भोजशाला मंदिर में हिंदू पक्ष द्वारा हनुमान चालीसा का पाठ किया जा रहा है।

हिंदू पक्ष का दावा

भोजशाला मुक्ति यज्ञ के संयोजक गोपाल शर्मा ने मीडिया से चर्चा के दौरान बड़ा दावा करते हुएकहा कि खुदाई में भगवान चतुर्भुज नारायण की छोटी मूर्ति निकली है।। यह सफेद पाषाण की है। बाकी 3 अवशेष भोजशाला की दीवारों और स्तंभों के भी निकले हैं। गर्भगृह में अवशेषों की वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी का कार्य किया गया है।

मानव हड्डियां निकली, जिन्हें दोबारा जमीन में दफ्नाया गया

वहीं दूसरी तरफ मुस्लिम पक्षकार और कमाल मौलाना वेलफेयर सोसाइटी के सदर अब्दुल समद का कहना है कि पिछले 2 दिन से खुदाई के दौरान मानव हड्डियां निकल रही हैं। इनको लेकर हमने जो मांग रखी थी, उसके तहत एएसआई की टीम ने निकाली गई हड्डियों को दोबारा से दफ्ना दिया है। विभाग ने पूरी प्रक्रिया करते हुए ये कार्य किया।