H

जी-20 का आगाज आज, जो बाइडेन, ऋषि सुनक समेत विश्व के कई दिग्गज नेता पहुंचे दिल्ली, पीएम मोदी से की मुलाकात

By: Ramakant Shukla | Created At: 09 September 2023 01:10 AM


जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी के लिए देश की राजधानी दिल्ली सजकर तैयार हो चुकी है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक समेत कई देशों के राष्ट्राध्यक्ष सम्मेलन में भाग लेने के लिए शुक्रवार को दिल्ली पहुंचे। सम्मेलन का आयोजन 9 और 10 सितंबर को प्रगति मैदान के भारत मंडपम में किया जाएगा।

bannerAds Img
जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी के लिए देश की राजधानी दिल्ली सजकर तैयार हो चुकी है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक समेत कई देशों के राष्ट्राध्यक्ष सम्मेलन में भाग लेने के लिए शुक्रवार को दिल्ली पहुंचे। सम्मेलन का आयोजन 9 और 10 सितंबर को प्रगति मैदान के भारत मंडपम में किया जाएगा। सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे कुछ मेहमानों के साथ पीएम मोदी ने द्विपक्षीय बैठक भी की। इनमें अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना और मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ शामिल रहे।

पीएम मोदी और जो बाइडेन की बैठक

दिल्ली एयरपोर्ट पर राष्ट्रपति जो बाइडेन का स्वागत केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह ने किया। इसके बाद बाइडेन देर शाम प्रधानमंत्री मोदी से मिलने पीएम आवास पर पहुंचे। जहां प्रधानमंत्री मोदी ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय वार्ता में दोनों देशों के संबंधों को और मजबूत करने पर केंद्रित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

प्रधानमंत्री ने बताया क्या चर्चा हुई

पीएम मोदी ने मीटिंग के बाद एक्स पर पोस्ट कर कहा, "राष्ट्रपति बाइडेन का 7, लोक कल्याण मार्ग पर स्वागत करके प्रसन्नता हुई. हमारी मुलाकात बेहद सार्थक रही। हमने कई विषयों पर चर्चा की, जिससे भारत और अमेरिका के बीच आर्थिक और लोगों के बीच संबंधों को मजबूती मिलेगी। भारत-अमेरिका के बीच मित्रता वैश्विक भलाई को आगे बढ़ाने में अहम भूमिका निभाती रहेगी। प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि दोनों नेताओं की वार्ता में व्यापक मुद्दे शामिल रहे और इससे भारत और अमेरिका के बीच संबंध और प्रगाढ़ होंगे। वहीं, व्हाइट हाउस ने कहा कि पीएम मोदी ने भारत और अमेरिका के बीच घनिष्ठ और स्थायी साझेदारी की पुष्टि करते हुए आज राष्ट्रपति जो बाइडेन का भारत में स्वागत किया। नेताओं ने प्रधानमंत्री मोदी की जून 2023 की ऐतिहासिक वाशिंगटन यात्रा की अभूतपूर्व उपलब्धियों को लागू करने के लिए चल रही पर्याप्त प्रगति के लिए अपनी सराहना व्यक्त की।

मॉरीशस के पीएम के साथ भी द्विपक्षीय वार्ता की

इससे पहले दिन में पीएम मोदी ने द्विपक्षीय बैठक में मॉरीशस के पीएम प्रविंद जगन्नाथ से बातचीत की और ग्लोबल साउथ की आवाज आगे बढ़ाने की भारत की प्रतिबद्धता दोहराई। इस बैठक के बाद पीएम मोदी ने एक्स पर लिखा कि प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ और मेरी बहुत अच्छी मुलाकात हुई।

भारत-मॉरीशस के संबंधों के लिए विशेष वर्ष

उन्होंने आगे कहा कि यह भारत-मॉरीशस के संबंधों के लिए विशेष वर्ष है, क्योंकि हमारे कूटनीतिक संबंधों के 75 वर्ष पूरे हुए हैं. हमने अवसंरचना, फिनटेक, संस्कृति और अन्य क्षेत्रों में सहयोग पर विचार-विमर्श किया। ग्लोबल साउथ की आवाज आगे बढ़ाने की भारत की प्रतिबद्धता भी दोहराई.

बांग्लादेश की पीएम के साथ भी की बैठक

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ द्विपक्षीय सहयोग में विविधता लाने पर बातचीत की और कनेक्टिविटी (संपर्क) और वाणिज्यिक संपर्क जैसे मुद्दों पर चर्चा की। एक्स पर एक पोस्ट में पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ सार्थक विचार-विमर्श किया।

जी-20 में ये देश शामिल

समूह में अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, कोरिया गणराज्य, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्किये, ब्रिटेन, अमेरिका और यूरोपीय संघ (ईयू) शामिल हैं। इस साल भारत ने बांग्लादेश, मिस्र, नीदरलैंड, मॉरीशस, नाइजीरिया, सिंगापुर, स्पेन, संयुक्त अरब अमीरात, ओमान विशेष आमंत्रित सदस्य के तौर पर आमंत्रित किया है।