H

ब्यूटी पार्लर में घुसकर सिरफिरे आशिक ने दुल्हन को मारी गोली, शादी के घर में पसरा मातम

By: Sanjay Purohit | Created At: 25 June 2024 08:13 AM


ब्यूटी पार्लर में तैयार हो रही थी दुल्हन, सिरफिरा आशिक बोला तुम मेरी नहीं तो किसी और की भी नहीं होने दूंगा, घर लौटी दुल्हन की लाश

bannerAds Img
दतिया, सिरफिरा आशिक ब्यूटी पॉर्लर पर दुल्हन बनने के लिए सज रही युवती के पास पहुंचा और अपने साथ चलने के लिए कहा। युवती के मना करने पर बोला तुम मेरी नहीं हो सकती तो किसी और की भी नहीं होने दूंगा। इतना कहने के बाद ही सिरफिरे आशिक ने कट्टे से युवती को गोली मार दी। मृतका दतिया जिले के सोनागिर थाना क्षेत्र के ग्राम बरगांय की रहने वाली है। आरोपी युवती का पड़ौसी बताया गया है। वारदात 24 जून के अपरान्ह करीब 3 बजे झांसी जिले के सीपरीबाजार अंतर्गत ब्यूटीपॉर्लर पर घटित हुई जहां युवती सजने के लिए गई थी।

जानकारी के अनुसार 20 वर्षीय काजल अहिरवार निवासी बरगांय सोनागिर दतिया मध्य प्रदेश का उसके ही पड़ौसी दीपक अहिरवार के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। 9 जून की अल सुबह काजल अपने प्रेमी दीपक अहिरवार के साथ घर से भाग गई थी। हालांकि दतिया की स्थानीय थाना पुलिस ने शाम को ही युवती को दरियाफ्त कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया था। काजल के वापिस आने के बाद माता-पिता ने उसे झांसी के खोडऩ में स्थित उसकी निनिहाल में पहुंचा दिया था। इतना ही नहीं आनन फानन में यूपी के ही झांसी अंतर्गत उसका रिश्ता तय कर 24 जून की शादी भी फिक्स कर दी थी।

वैवाहिक गार्डन में सजा रहगया मंडप, मातम में बदल गया शादी का जश्न

खोडऩ के निशा गार्डन को काजल की शादी के लिए सजाया गया था। बारात के आने की सारी तैयारियां हो गई थीं। गार्डन परिसर में मेहमानों की चहल पहल थी। स्टेज पर दूल्हे के साथ बैठने के लिए दुल्हन को जाना था। इससे पूर्व काजल को सजने संवरने के लिए ब्यूटीपॉर्लर ले जाया गया।

सीपरी बाजार के ब्यूटी पॉर्लर में जैसे ही काजल पहुंची तभी पता करते हुए उसका सिरफिरा आशिक दीपक अहिरवार भी पहुंच गया। उसका हावभाव देख ब्यूटी पॉर्लर संचालिका ने उसे अंदर आने से रोक दिया और गेट लॉक कर लिया। आरोपी दीपक ने जब गेट जोर-जोर से पीटना शुरू किया तो उसने गेट खोल दिया।

अंदर जाने के बाद दीपक ने काजल से साथ चलने के लिए कहा। काजल ने उसके साथ जाने से मना कर दिया। तभी आरोपी ने कट्टा निकाला और ये कहते हुए उसके सीने में गोली उतार दी कि यदि वह उसकी नहीं हो सकती तो वह किसी और की भी नहीं होने देगा। गोली मारने के बाद आरोपी दीपक अहिरवारच कट्टा लहराता हुआ फरार हो गया।