H

BRS ने कांग्रेस नेता को दी ये नसीहत, कहा- 'राहुल गांधी ऐसे संविधान की रक्षा करेंगे आप, देश कैसे करे भरोसा'

By: payal trivedi | Created At: 05 July 2024 08:29 AM


तेलंगाना में विपक्षी दल भारत राष्ट्र समिति (BRS) को झटके पर झटका लगा रहा है। पिछले कुछ दिनों से पार्टी के कई विधायकों ने कांग्रेस का दामन थाम लिया है।

bannerAds Img
हैदराबाद: तेलंगाना में विपक्षी दल भारत राष्ट्र समिति (BRS) को झटके पर झटका लगा रहा है। पिछले कुछ दिनों से पार्टी के कई विधायकों ने कांग्रेस का दामन थाम लिया है। इसी बीच गुरुवार देर रात बीआरएस के छह छह विधान परिषद कांग्रेस में शामिल हो गए। मुख्यमंत्री रेवंत रेड्डी की मौजूदगी में ये सभी छह एमएलसी कांग्रेस में शामिल हुए।

बीआरएस नेता ने कांग्रेस पर साधा निशाना

तेलंगाना विधानसभा में मिली करारी शिकस्त के बाद बीआरएस अब अस्तित्व कि लड़ाई लड़ रही है। कांग्रेस की बीआरएस पार्टी में सेंधमारी पर पार्टी नेता केटीआर ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा, "बीआरएस सांसद केशव राव ने कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के बाद इस्तीफा दे दिया। उनके फैसले का स्वागत है। बीआरएस के उन विधायकों का क्या हुआ जो कांग्रेस छोड़कर लोकसभा में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े थे? बीआरएस के आधा दर्जन अन्य विधायकों का क्या हुआ जो कांग्रेस में शामिल हो गए? राहुल गांधी क्या आप इसी तरह संविधान की रक्षा करेंगे? अगर आप बीआरएस विधायकों को इस्तीफा देने के लिए मजबूर नहीं कर सकते, तो देश कैसे भरोसा करेगा कि आप कांग्रेस के घोषणापत्र के अनुसार अनुसूची 10 संशोधन के लिए प्रतिबद्ध हैं? ये कैसा न्याय पत्र है?

बीआरएस के कई विधायक ने थामा कांग्रेस का हाथ

बताते चलें कि दें कि 28 जून को चेवेल्ला से भारत राष्ट्र समिति के विधायक काले यादैया कांग्रेस में शामिल हुए थे। बीआरएस विधायक संजय कुमार रविवार को सत्तारूढ़ कांग्रेस में शामिल हो गए थे। वहीं, इससे पहले बीआरएस के वरिष्ठ विधायक और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष पोचाराम श्रीनिवास रेड्डी 21 जून को कांग्रेस में शामिल हो गए थे।