H

मुख्यमंत्री डॉ मोहन के मंत्रियों की पाठशाला का आज दूसरा दिन

By: Richa Gupta | Created At: 04 February 2024 09:34 AM


मध्यप्रदेश में विधानसभा सत्र से पहले नया प्रयोग होने जा रहा है। मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री के मंत्रिपरिषद में शामिल जूनियर मंत्रियों को खास तरह की ट्रेनिंग दी जा रही है।

banner
मध्यप्रदेश में विधानसभा सत्र से पहले नया प्रयोग होने जा रहा है। मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री के मंत्रिपरिषद में शामिल जूनियर मंत्रियों को खास तरह की ट्रेनिंग दी जा रही है। दरअसल, मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव बजट सत्र में एक नया प्रयोग करने जा रहे हैं, विधानसभा सत्र के दौरान सीएम डॉ.मोहन यादव के पास जो विभाग हैं, उनसे जुड़े सवालों के जवाब जूनियर मंत्री देंगे। इसके लिए सीएम ने 7 राज्यमंत्रियों को जिम्मेदारी सौंपी है। इसी के लिए मंत्रियों को ट्रेनिंग की दी जा रही है।

लीडरशिप का आज दूसरा दिन

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के मंत्रियों की पाठशाला के लीडरशिप का आज दूसरा दिन है। सुबह 10 बजे से शाम 7:30 बजे तक यह पाठशाला चलेगी। आज “विधायी कार्य-प्रणाली’’, “अवसर एवं चुनौतियाँ’’, “आकांक्षाएँ एवं संकल्प-भारत सरकार की अहम पहल’’ एवं “प्रौद्योगिकी एवं सुशासन’’ पर क्लास होगी।विधानसभा अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर, कैबिनेट मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल, मंत्री कैलाश विजयवर्गीय क्लास लेंगे। वहीं श्वेता सिंह और डॉ. विनय सहस्रबुद्धे भी मंत्रियों को सुशासन के टिप्स देंगे।

विधानसभा सत्र से पहले होने जा रहा नया प्रयोग

अब तक विधानसभा में यह परंपरा थी कि अगर कैबिनेट मंत्री विधानसभा में मौजूद नहीं रहते हैं तो उनसे संबंधित सवालों के जवाब विभाग के राज्यमंत्री देते थे। लेकिन ऐसा पहली बार होगा जब राज्यमंत्री सीएम के विभागों के सवालों का जवाब विधायकों को देंगे। नरेंद्र शिवाजी पटेल गृह और जेल विभाग के जवाब देंगे। प्रतिमा बागरी प्रवासी भारतीय व विमानन विभाग के जवाब देंगी। दिलीप अहिवार खनिज व उद्योग विभाग के जवाब देंगे। राधा सिंह लोकसेवा प्रबंधन व आनंद विभाग के जवाब देंगी। कृष्णा गौर (स्वतंत्र प्रभार) सामान्य प्रशासन विभाग के जवाब देंगी। धर्मेंद्र लोधी (स्वतंत्र प्रभार) नर्मदा घाटी विकास व जनसंपर्क विभाग के जवाब देंगी। गौतम टेटवाल (स्वतंत्र प्रभार) विधि व विधायी कार्य व विज्ञान प्रौद्योगिकी विभाग के जवाब देंगे।