H

मोबाइल रिचार्ज महंगा होने से टेलीकॉम इंडस्ट्री को ₹20,000 करोड़ के फायदे का अनुमान

By: Sanjay Purohit | Created At: 01 July 2024 09:21 AM


एयरटेल और रिलायंस जियो ने मोबाइल रिचार्ज महंगा कर दिया है। इसके बाद अब वोडाफोन आइडिया ने भी जल्द ही अपने प्लान महंगे कर दिए है। इन कंपनियों ने रिचार्ज प्लान में करीब 15-20 फीसदी का इजाफा किया है। इससे मोबाइल यूजर्स की जेब पर बोझ बढ़ गया है।

bannerAds Img
एयरटेल और रिलायंस जियो ने मोबाइल रिचार्ज महंगा कर दिया है। इसके बाद अब वोडाफोन आइडिया ने भी जल्द ही अपने प्लान महंगे कर दिए है। इन कंपनियों ने रिचार्ज प्लान में करीब 15-20 फीसदी का इजाफा किया है। इससे मोबाइल यूजर्स की जेब पर बोझ बढ़ गया है। दूसरी तरफ टेलीकॉम कंपनियों के मुनाफे में अच्छी-खासी बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स के अनुसार, प्रीपेड और पोस्टपेड प्लान्स में 15-20 फीसदी मोबाइल टैरिफ हाइक से इंडस्ट्री को करीब 20,000 करोड़ रुपए का अतिरिक्त परिचालन लाभ हो सकता है।

14% बढ़ जाएगा इंडस्ट्री का रेवेन्यू

आईसीआरए को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2025 में टेलीकॉम इंडस्ट्री का राजस्व 12-14 प्रतिशत बढ़ेगा। ऑपरेटिंग लीवरेज को देखते हुए 14-16 प्रतिशत तक परिचालन लाभ में इजाफा होने का अनुमान है। टेलीकॉम इंडस्ट्री को वित्त वर्ष 2025 में 1.6-1.7 लाख करोड़ रुपए के परिचालन लाभ के साथ 3.2-3.3 लाख करोड़ रुपए का राजस्व दर्ज करने की संभावना है। मॉर्गन स्टेनली के एक नोट के अनुसार, दूसरे टेलीकॉम प्लेयर्स भी मोबाइल टैरिफ हाइक करेंगे। नोट में कहा गया है, "हमारा अनुमान है कि भारती एयरटेल और रिलायंस जियो के लिए मिश्रित एआरपीयू को 16-18 प्रतिशत की सीमा में लाभ होगा।"