H

राजस्थान के पूर्व सीएम Ashok Gehlot का बड़ा बयान- 'मैंने कभी पीएम लेवल पर ऐसी भाषा नहीं सुनी, मोदी की बॉडी लैंग्वेज अजीबोगरीब...'

By: payal trivedi | Created At: 27 March 2024 12:28 PM


पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने सीकर से इंडिया गठबंधन के उम्मीदवार अमराराम के समर्थन में सभा को संबोधित किया। गहलोत ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री जैसी भाषा बोलते हैं, ऐसी भाषा मैंने किसी पीएम के मुंह से नहीं सुनी।

banner
Jaipur: पूर्व सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने सीकर से इंडिया गठबंधन के उम्मीदवार अमराराम के समर्थन में सभा को संबोधित किया। गहलोत ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री जैसी भाषा बोलते हैं, ऐसी भाषा मैंने किसी पीएम के मुंह से नहीं सुनी। पीएम मोदी की बॉडी लैंग्वेज ही अजीबोगरीब है। सीकर से इंडिया एलायंस के लोकसभा प्रत्याशी अमराराम ने मंगलवार को नामांकन भरा।

'देश के वर्तमान हालात गंभीर हैं, लोकतंत्र खतरे में है'

पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने कहा- देश के वर्तमान हालात गंभीर हैं, लोकतंत्र खतरे में है। डॉ. भीमराव अंबेडकर द्वारा बनाए गए संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही है। समझने वाले समझ गए तो ठीक है नहीं तो आने वाले समय में बहुत पछतावा होगा। अशोक गहलोत ने कहा कि देश के अंदर ईडी और सीबीआई के माध्यम से शासन हो रहा है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे कहते हैं कि अगर ये बीजेपी वाले एक बार और चुनाव जीत गए तो आगे चुनाव होंगे या नहीं इस बात की कोई गारंटी नहीं। अगर किसी पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष इस तरह की बात कहता है तो आप सोच सकते हैं कि देश की स्थिति कितनी चिंताजनक है।

'हमने कभी प्रधानमंत्री लेवल पर ऐसी भाषा नहीं सुनी'

पूर्व सीएम ने कहा कि विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री खुद 18 बार राजस्थान आए। मोदी के मुख्यमंत्री पांच बार राजस्थान आए और केंद्रीय मंत्री अनेक बार राजस्थान आए। सभी ने जमकर झूठ बोला। भाजपा वाले झूठ बोलकर गए हैं कि हिंदू को जयपुर में 5 लाख दिए और मुसलमान को 50 लाख दे दिए। उदयपुर में कन्हैया लाल की हत्या हुई, हमने 2 घंटे में आरोपी पकड़ लिए। मैं खुद उनके घर पर गया और दो बच्चों को नौकरी दी। यह जो चाल चली जा रही है सबको पता है। गहलोत ने कहा कि जो भाषा प्रधानमंत्री बोलते हैं हमने कभी प्रधानमंत्री लेवल पर ऐसी भाषा नहीं सुनी।

कांग्रेस- कॉमरेड एक साथ है तो हालत समझ लीजिए

पूर्व सीएम (Ashok Gehlot) ने कहा कि अगर आज कांग्रेस और कॉमरेड एक साथ बैठे हैं तो समझ लीजिए कि देश के हालात कितने गंभीर हैं। यह हम सबको समझना होगा। आज भाजपा वाले विपक्षी नेताओं को पकड़-पकड़ कर लोकसभा, राज्यसभा के टिकट दे रहे हैं। अब नीतीश कुमार को ले आए। अगर ऐसा रहा तो 400 क्या 500 पार कर जाएंगे।

इलेक्टॉरल बॉन्ड को लेकर कही ये बात

गहलोत ने कहा कि भाजपा के अंदर कांग्रेस नेताओं को तोड़ो, चंदा लो और चंदा जोड़ो वाली पॉलिसी चल पड़ी है। मैंने 2019 में ही कह दिया था कि इलेक्टोरल बॉन्ड करप्शन है। आज सुप्रीम कोर्ट के कहने के बाद बीजेपी वाले जुबान नहीं खोल रहे हैं। यह चुप रहने का प्रधानमंत्री का अलग ही अप्रोच है। मोदी को लगता कि मुद्दा खत्म हो जाएगा। इसलिए मोदी नहीं बोलते। मैं मोदीजी को कहना चाहता हूं कि मोदीजी ये मुद्दे जनता इतनी जल्दी नहीं भूलेगी।

भाजपा वालों ने साढ़े सात सौ किसान मार दिए- डोटासरा

पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि ये भाजपा वाले 400 पार करने की बात करते हैं, मैं कहता हूं कि ये सवा सौ भी पार नहीं कर पाएंगे। डोटासरा ने कहा कि ये राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल हैं ना, यह तीन कामों के लिए प्रसिद्ध हैं। भाषण ठोको, चाहे झूठ ही बोलो। भाषण दो, भ्रमण करो और लोगों को भ्रमित करो। मुख्यमंत्री कहते हैं कि यमुना जल समझौता कर दिया, अरे भाई क्या कर दिया। एक बूंद भी पानी नहीं आया। डोटासरा ने कहा कि मुख्यमंत्री भाषण में किसानों और वीरों की धरती को नमन करते हैं। मैं कहना चाहता हूं कि भाजपा वालों ने साढ़े सात सौ किसान मार दिए अभी तक भी मन नहीं भरा क्या।

डोटासरा ने मंच पर कार्यकर्ताओं के साथ किया डांस

भाजपा (Ashok Gehlot) के पूर्व कैबिनेट मंत्री सुभाष महरिया पर तंज कसते हुए गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि यहां के लोग बार-बार चश्मा लगा कर देखते हैं कि बीजेपी की लिस्ट में नाम आया या नहीं आया। डोटासरा ने कहा कि भाजपा ने अग्नि वीर योजना लाकर नौजवानों की सगाई कैंसिल करवा दी। पीसीसी चीफ ने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी ने जाटों को आरक्षण दे दिया। मैं पूछना चाहता हूं अगर राजस्थान के जाटों को आरक्षण दे दिया तो हरियाणा के जाटों को आरक्षण क्यों नहीं मिला। डोटासरा ने मंच पर कार्यकर्ताओं के साथ 'म्हारो तेजल सुपर-डुपर' गाने पर डांस भी किया।

भाजपा ने संविधान की हत्या कर दी- अमराराम

सीकर लोकसभा से इंडिया एलायंस गठबंधन के प्रत्याशी कॉमरेड अमराराम दोपहर 12:30 बजे जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे। अमराराम के साथ पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा, पोलित ब्यूरो मेंबर वृंदा करात, सीकर विधायक राजेंद्र पारीक, नगर परिषद सभापति जीवण खां, सीकर कांग्रेस जिला अध्यक्ष सुनीता गठाला मौजूद रहीं। जिला निर्वाचन अधिकारी कमर उल जमान चौधरी को नामांकन पत्र देने के बाद अमराराम ने शपथ ली। मीडिया से वार्ता करते हुए अमराराम ने कहा कि संविधान को बचाने के लिए देश के सभी राजनीतिक दल एकजुट होकर चुनाव लड़ रहे हैं। ताकि संविधान को बचाया जा सके। अमराराम ने कहा कि भाजपा ने संविधान की हत्या कर दी है।