H

हाथरस में हादसे के बाद फरार है हरि भोले बाबा, 17 साल पहले नौकरी छोड़ बना था कथावाचक

By: Ramakant Shukla | Created At: 02 July 2024 12:45 PM


उत्तरप्रदेश के सिकंदराराऊ से एटा रोड पर फुलरई गांव में सत्संग के दौरान भगदड़ मचने से करीब 90 लोगों की मौत हो गई है। मिली जानकारी के मुताबिक, यहां कथावाचक बाबा साकार विश्व हरि भोले बाबा का सत्संग चल रहा था।

bannerAds Img
उत्तरप्रदेश के सिकंदराराऊ से एटा रोड पर फुलरई गांव में सत्संग के दौरान भगदड़ मचने से करीब 90 लोगों की मौत हो गई है। मिली जानकारी के मुताबिक, यहां कथावाचक बाबा साकार विश्व हरि भोले बाबा का सत्संग चल रहा था।

हादसे के बाद से फरार है बाबा भोले

हाथरस में जिस कथावाचक साकार विश्व हरि भोले बाबा का सत्संग हो रहा था। उन्हें अनुयायी भोले बाबा के नाम से पुकारते हैं। हादसे के बाद से भोले बाबा फरार है। अभी तक उनके बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है।

17 साल पहले छोड़ी थी पुलिस की नौकरी

कथावाचक बाबा साकार विश्व हरि भोले बाबा का असल नाम सूरज पाल है और उसने करीब 17 साल पहले पुलिस कांस्टेबल की नौकरी छोड़कर सत्संग शुरू किया था। नौकरी छोड़ने के बाद सूरज पाल साकार विश्व हरि भोले बाबा बन गया और पटियाली में अपना आश्रम बनाया। गरीब और वंचित तबके के बीच में भोले बाबा की प्रसिद्धि तेजी से बढ़ी और लाखों की संख्या में उनके अनुयायियों बन गए।