H

मध्य प्रदेश में आंगनवाड़ियों का प्ले स्कूल की तरह होगा विकास, नर्सरी से केजी-2 तक की होगी पढ़ाई

By: Richa Gupta | Created At: 29 June 2024 04:42 AM


मध्य प्रदेश में आंगनवाड़ियों का निजी प्ले स्कूल की तरह विकास किया जाएगा। 1200 करोड़ से आगनबाड़ी निजी प्ले स्कूलों जैसी बनेंगी। इसके अंतर्गत 11 हजार आंगनबाड़ियों को शामिल किया गया है।

bannerAds Img
मध्य प्रदेश में आंगनवाड़ियों का निजी प्ले स्कूल की तरह विकास किया जाएगा। 1200 करोड़ से आगनबाड़ी निजी प्ले स्कूलों जैसी बनेंगी। इसके अंतर्गत 11 हजार आंगनबाड़ियों को शामिल किया गया है। आंगनबाड़ियों का निर्माण और रेनोवेशन किया जाएगा। आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों की सेहत सुधारने के साथ नर्सरी,केजी-1,केजी-2 की पढ़ाई भी होगी। इसके साथ ही सुदंर यूनिफार्म देने पर भी विचार किया जा रहा है। इस कड़ी में किराए के मकान में चलने वाली 11 हजार आंगनबाड़ियों को पहले रेनोवेशन किया जाएगा। ऐसा इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि आंगनवाड़ी केंद्रों में पहले से ही बच्चों से जुड़ी जरूरी सुविधाएं मौजूद हैं।

इंडोर व आउटडोर गेम्स की भी व्यवस्था

विभाग आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों के मानसिक व शारीरिक विकास के लिए इंडोर व आउटडोर गेम्स की भी व्यवस्था कर रहा है। केंद्रों को निजी प्ले स्कूल की तरह सजाया जाएगा। बच्चों को आकर्षित करने वाली रंगीन दीवारें होंगी। इन पर ज्ञानवर्धक पेंटिंग होगी। दीवारों पर वर्णमाला के अक्षर, अंग्रेजी वर्णमाला के लेटर के साथ कार्टून कैरेक्टर, पक्षी, फल, सब्जी, जानवरों के नाम सहित चित्रण होगा।