H

आठ दिन से भूख हड़ताल कर रही मेधा पाटकर ने अनशन खत्म किया, एनवीडीए कमिश्नर से मिला आश्वासन

By: Sanjay Purohit | Created At: 23 June 2024 10:31 AM


मेधा पाटकर ने भूख हड़ताल खत्म कर प्रशासनिक अमले से कहा कि अब हमें आश्वासन नहीं, निर्णय लेकर धरातल पर कार्य चाहिए। अगर, फिर से 2023 जैसे डूब के हालात बनते हैं, तो इस बार वह जल सत्याग्रह करेंगी।

bannerAds Img
मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेत्री मेधा पाटकर ने 8 दिन से चली आ रही अपनी भूख हड़ताल खत्म कर दी। वे बीते आठ दिनों से लगातार सरदार सरोवर बांध के डूब प्रभावितों के मुद्दों को लेकर भूख हड़ताल कर रही थीं, शनिवार को धार जिले के कुक्षि ब्लॉक के ग्राम खेड़ा के अनशन स्थल पर पहुंचे कलेक्टर और एसपी ने मेधा पाटकर की बात एनवीडीए कमिश्नर दीपक सिंह से करवाई। जिसके बाद मिले आश्वासन के बाद उन्होंने अपना अनशन समाप्त कर दिया।

वीडियो कॉल पर करवाई गई कमिश्नर से चर्चा

शनिवार को धार कलेक्टर प्रियंक मिश्रा, धार पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह और एसडीएम कुक्षी प्रमोद सिंह गुर्जर सहित बड़ी संख्या में प्रशासनिक अमला अनशन स्थल पहुंचा था। जहां मेधा पाटकर की वीडियो कॉल पर एनवीडीए कमिश्नर दीपक सिंह से चर्चा करवाई गई। इस दौरान दोनों के बीच जल्द ही नीतिगत मुद्दों पर निर्णय लेकर शीघ्र ही डूब प्रभावितों की समस्याओं पर कार्य करने को लेकर सहमति बनी। मेधा पाटकर ने प्रशासनिक अमले से कहा कि अब हमें आश्वासन नहीं, निर्णय लेकर धरातल पर कार्य चाहिए।

अनशन तोड़ते ही भावुक हुईं मेधा पाटकर

अनशन स्थल पर दिल्ली से आए सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता संजय पारिख ने कहा कि अगर सरकार और एनवीडीए वादा खिलाफी करती है तो वे मेधा पाटकर जी को वचन देते हैं कि वे डूब प्रभावितों के अधिकारों की लड़ाई सुप्रीम कोर्ट में जारी रखेंगे। इधर, बीते आठ दिनों से भूख हड़ताल कर रहीं मेधा पाटकर अनशन को तोड़ते ही भावुक हो गईं, वे अनशन में साथ दे रहीं महिलाओं से मिलते हुए रोने लगी।