H

कांग्रेस से निष्कासित होने पर राहुल गांधी को लेकर Acharya Pramod ने कही ये बड़ी बात, कुमार विश्वास ने भी साधा निशाना

By: payal trivedi | Created At: 11 February 2024 01:04 PM


कांग्रेस की आंतरिक कलह और पार्टी द्वारा राम मंदिर के निमंत्रण को ठुकराने के खिलाफ बयान देने वाले आचार्य प्रमोद कृष्णम को छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। आचार्य पर पार्टी विरोधी टिप्पणी के लिए ये कार्रवाई की गई। अब निष्कासन के बाद आचार्य प्रमोद का पहला बयान सामने आया है।

banner
New Delhi: कांग्रेस की आंतरिक कलह और पार्टी द्वारा राम मंदिर (Acharya Pramod) के निमंत्रण को ठुकराने के खिलाफ बयान देने वाले आचार्य प्रमोद कृष्णम को छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। आचार्य पर पार्टी विरोधी टिप्पणी के लिए ये कार्रवाई की गई। अब निष्कासन के बाद आचार्य प्रमोद का पहला बयान सामने आया है।

आचार्य ने राहुल गांधी को लेकर कही ये बात

आचार्य ने पार्टी से निष्कासित होने पर पहला रिएक्शन देते हुए राहुल गांधी पर तंज कसा है। प्रमोद कृष्णम ने अपने एक्स हैंडल पर राहुल गांधी को टैग करते हुए कहा, राम और राष्ट्र पर समझौता नहीं किया जा सकता।

कुमार विश्वास ने भी कांग्रेस पर कसा तंज

आचार्य के पोस्ट के बाद कुमार विश्वास ने भी कांग्रेस (Acharya Pramod) पर हमला बोला है। उन्होंने एक पोस्ट में तुलसीदास की पंक्तियां लिखते हुए कांग्रेस को राम को प्यार न करने वाला बताया। कुमार की पंक्तियों का अर्थ है- 'जिस किसी को भी राम और सीता प्यारे नहीं है, उसे करोड़ों शत्रुओं के समान छोड़ देना चाहिए, चाहे वह अपना सबसे प्यारा ही क्यों न हो। प्रह्लाद ने अपने पिता (हिरण्यकशिपु) को, विभीषण ने अपने भाई (रावण) को और ब्रज-गोपियों ने अपने-अपने पतियों को त्याग दिया, परंतु ये सभी आनंद और कल्याण करने वाले हुए।'

कांग्रेस ने जारी किया बयान

कांग्रेस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पार्टी के खिलाफ अनुशासनहीनता और बार-बार बयानबाजी की शिकायतों के मद्देनजर ये कार्रवाई की गई है। कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रमोद कृष्णम को तत्काल प्रभाव से छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित करने के उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। हाल ही में, आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कांग्रेस द्वारा राम मंदिर की 'प्राण प्रतिष्ठा' कार्यक्रम के निमंत्रण को अस्वीकार करने पर सोनिया गांधी और खरगे पर हमला बोला था।