H

Rajasthan Election 2023: कांग्रेस प्रत्याशी ने चुनाव आयोग से की राज्यपाल गुलाब चंद कटारिया की शिकायत, जानें क्या है पूरा मामला

By: payal trivedi | Created At: 14 November 2023 08:30 AM


राजस्थान में विधानसभा चुनाव (Rajasthan Election 2023) के लिए प्रत्याशी लगातार अपने क्षेत्रों में प्रचार में जुटे हैं। साथ ही उनके समर्थन में बड़े नेताओं का भी दौरा लगा हुआ है

bannerAds Img
Jaipur: राजस्थान में विधानसभा चुनाव (Rajasthan Election 2023) के लिए प्रत्याशी लगातार अपने क्षेत्रों में प्रचार में जुटे हैं। साथ ही उनके समर्थन में बड़े नेताओं का भी दौरा लगा हुआ है। ऐसे में उदयपुर (Udaipur) शहर विधानसभा सीट की बात करें तो यहां कांग्रेस (Congress) प्रत्याशी, पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव वल्लभ (Gaurav Vallabh) और बीजेपी (BJP) से ताराचंद जैन हैं। बीजेपी से यहां लगतार चार बार गुलाबचंद कटारिया विधायक रहे और अब असम के राज्यपाल बनने के बाद ताराचंद जैन को मौका दिया गया है। यहां बड़ी बात यह है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता और उदयपुर प्रत्याशी गौरव वल्लभ ने गुलाबचंद कटारिया के खिलाफ चुनाव आयोग को पत्र लिख कर शिकायत की है।

गौरव वल्लभ ने पत्र में लिखी ये बात

गौरव वल्लभ ने पत्र में लिखा, असम के राज्यपाल गुलाब चंद कटारिया उदयपुर के रहने वाले हैं।ऐसे में वह दिवाली के मौके पर उदयपुर आकर उदयपुर शहर के बीजेपी प्रत्याशी ताराचंद जैन के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं। गौरव वल्लभ ने यह भी बताया कि गुलाबचंद कटारिया उदयपुर में प्रवास के दौरान अलग-अलग जगहों पर जाकर मीटिंग कर रहे हैं और ताराचंद जैन के समर्थन में लोगों से समर्थन करने की बात भी कह रहे हैं और ये सारी कवायद पूर्ण रूप से आचार संहिता का खुल्लमखुल्ला उल्लंघन है। असम के राज्यपाल गुलाबचंद कटारिया संवैधानिक पद पर रहते हुए जिस तरह से बीजेपी प्रत्याशी ताराचंद के समर्थन में प्रचार-प्रसार कर रहे हैं, यह गलत है। चुनाव आयोग को इस मामले में संज्ञान लेना चाहिए और आदर्श आचार संहिता को बनाए रखने के लिए उन पर रोक लगाई जानी चाहिए।

मेवाड़ की 28 सीटों पर था वर्चस्व

गुलाब चंद कटारिया (Rajasthan Election 2023) का मेवाड़-वागड़ की 28 विधानसभा सीटों पर वर्चस्व था। वह उदयपुर शहर के विधायक रहते हुए बीजेपी सरकार में शिक्षा, गृहमंत्री सहित अन्य पदों पर थे। असम के राज्यपाल बनने के बाद भी वह उदयपुर में आते रहते हैं और भारतीय जनता पार्टी की तरफ से आयोजित किए गए कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं। अब गौरव वल्लभ द्वारा शिकायत करने के बाद उनका यह दौरा चर्चाओं में आ गया है।