H

अखिलेश यादव ने राष्ट्रपति के अभिभाषण को सरकार का भाषण बताया

By: Durgesh Vishwakarma | Created At: 27 June 2024 05:48 AM


18वीं लोकसभा के चौथे दिन संसद के दोनों सदनों- राज्यसभा और लोकसभा को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने संबोधित किया।

bannerAds Img
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज गुरुवार यानी की (27 जून) को संसद के दोनों सदनों में अपना अभिभाषण पेश करेंगी। इस दौरान महामहिम द्रौपदी मुर्मू लोकसभा और राज्यसभा के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगीं। आपको बता दें कि, इस दौरान राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू निचले और ऊपरी सदन की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए अगले 5 वर्षों के लिए नई सरकार के कार्यों की रूपरेखा प्रस्तुत करेंगी।

राज्यसभा और लोकसभा को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने संबोधित किया

18वीं लोकसभा के चौथे दिन संसद के दोनों सदनों- राज्यसभा और लोकसभा को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने संबोधित किया। इससे पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और कन्नौज से सांसद अखिलेश यादव ने राष्ट्रपति के अभिभाषण को सरकार का भाषण बताया। सपा प्रमुख ने कहा कि यह परंपरा है और यह हमेशा होता है। हम सब सुनते(राष्ट्रपति का भाषण) हैं। वो दरअसल सरकार का भाषण होता है।

तानाशाही के लिए राष्ट्रपति जिम्मेदार...

वहीं, AAP के राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार करने पर शिवसेना (उद्धव गुट) ने भी समर्थन किया है। शिवसेना (UBT) नेता संजय राउत ने कहा है कि, मैं आम आदमी पार्टी के फैसले का स्वागत करता हूं। जिस प्रकार तानाशाही चल रही है, उसकी जिम्मेदार राष्ट्रपति भी हैं। राष्ट्रपति को सरकार को तानाशाही के विरुद्ध रोकना चाहिए।