H

हाथरस हादसे पर SIT की रिपोर्ट के बाद बड़ा एक्शन, SDM-सीओ समेत 6 अधिकारी निलंबित

By: Ramakant Shukla | Created At: 09 July 2024 10:40 AM


हाथरस भगदड़ मामले में एसआईटी ने बीते शुक्रवार को जांच रिपोर्ट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंप दी थी। इसमें 100 लोगों के बयान दर्ज किए गए थे। अब इस रिपोर्ट के आधार पर एक्शन लिया गया है। इस रिपोर्ट के आधार पर एसडीएम और सीओ के खिलाफ एक्शन हुआ है। सरकार ने दोनों को निलंबित कर दिया है।

bannerAds Img
हाथरस भगदड़ मामले में एसआईटी ने बीते शुक्रवार को जांच रिपोर्ट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंप दी थी। इसमें 100 लोगों के बयान दर्ज किए गए थे। अब इस रिपोर्ट के आधार पर एक्शन लिया गया है। इस रिपोर्ट के आधार पर एसडीएम और सीओ के खिलाफ एक्शन हुआ है। सरकार ने दोनों को निलंबित कर दिया है। एसडीएम और सीओ समेत 6 अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है. यह एक्शन एसआईटी की रिपोर्ट के बाद लिया गया था. वहीं एडीजी आगरा और अलीगढ़ कमिश्नर की अगुवाई में मामले की जांच चल रही है. हादसे के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले की उच्चस्तरीय जांच के निर्देश दिए थे. इसके लिए उन्होंने समिति भी गठित की थी।

SDM-सीओ समेत 6 अधिकारी निलंबित

एडीजी आगरा जोन अनुपम कुलश्रेष्ठ और मंडलायुक्त चैत्रा वी को एसआईटी में शामिल किया गया था. शासन की ओर से इन्हें 24 घंटे के अंदर जांच रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया था. वैसे शासन की ओर से बीते बुधवार तक रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया था, लेकिन सीएम योगी के घटनास्थल पर जाने और राहत एवं बचाव कार्य में तेजी लाने की वजह से निर्धारित समय अवधि तक जांच रिपोर्ट नहीं सौंपी जा सकी थी। इसके बाद, अधिकारियों ने शासन से अपनी जांच रिपोर्ट तैयार करने के लिए तीन दिनों का अतिरिक्त समय मांगा था. अब जांच रिपोर्ट मिलने के बाद शासन की ओर से आगामी दिनों में क्या कुछ कदम उठाया जाएगा इस पर सबकी नजर थी, अब इस कार्रवाई के बाद सबकी निगाहें आगे के एक्शन पर टिकी हुई हैं। बता दें कि बीते दिनों उत्तर प्रदेश के हाथरस में बाबा साकार हरि का सत्संग आयोजित किया गया था. इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए वैसे प्रशासन की ओर से 80 हजार लोगों को मंजूरी मिली थी, लेकिन कार्यक्रम में ढाई लाख से भी ज्यादा लोग शामिल हो गए. कार्यक्रम समाप्त होने के बाद जब लोगों के बाहर जाने का वक्त आया तो भगदड़ मच गई थी।