H

सीएम ने नवनियुक्त मंत्रियों को बांटे विभाग, राजेंद्र पीएचई, जनसंपर्क, बिसेन को नर्मदा घाटी विकास

By: Ramakant Shukla | Created At: 31 August 2023 02:22 AM


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नव नियुक्त मंत्रियों को विभाग बांट दिए है। शपथ लेने के बाद से मंत्री बिना विभाग के थे। विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने से करीब डेढ़ महीने पहले सरकार ने तीन विधायकों को मंत्रियों बनाया है। मुख्यमंत्री ने दो कैबिनेट मंत्री गौरीशंकर बिसेन को नर्मदा घाटी विकास, पूर्व मंत्री और विधायक राजेंद्र शुक्ला को लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और जनसंपर्क और राज्य मंत्री राहुल लोधी को कुटीर एवं ग्रामोद्योग (स्वतंत्र प्रभार) एवं वन विभाग का प्रभार सौंपा है।

bannerAds Img
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नव नियुक्त मंत्रियों को विभाग बांट दिए है। शपथ लेने के बाद से मंत्री बिना विभाग के थे। विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने से करीब डेढ़ महीने पहले सरकार ने तीन विधायकों को मंत्रियों बनाया है। मुख्यमंत्री ने दो कैबिनेट मंत्री गौरीशंकर बिसेन को नर्मदा घाटी विकास, पूर्व मंत्री और विधायक राजेंद्र शुक्ला को लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और जनसंपर्क और राज्य मंत्री राहुल लोधी को कुटीर एवं ग्रामोद्योग (स्वतंत्र प्रभार) एवं वन विभाग का प्रभार सौंपा है।

जानिए किसे मिला कौन सा विभाग?

बता दें शिवराज कैबिनेट का 26 अगस्त को तमाम अटकलों के बाद विस्तार किया गया था। इसके बाद से तीनों ही मंत्री को विभाग नहीं दिए गए थे। राजेंद्र शुक्ला रीवा से विधायक है। वह ब्राह्मण चेहरा है। गौरीशंकर बिसेन सात बार के विधायक और एक बार सांसद रहे है। वह ओबीसी वर्ग से आते है। बालाघाट से विधायक गौरीशंकर बिसेन ओबीसी वर्ग से आते है। वहीं, राहुल लोधी खरगापुर विधानसभा सीट से पहली बार के विधायक है। पूर्व सीएम उमा भारती के भतीजे है। राहुल युवा चेहरे के साथ ओबीसी वर्ग से आते है। सरकार ने जातिगत और सामाजिक समीकरणो का सामांजस्य बैठाते हुए तीनों विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई है।

Read More: शिवराज कैबिनेट की बैठक आज, कई अहम प्रस्तावों पर लगेगी मुहर