H

विश्व वानिकी दिवस पर हम वनों की रक्षा और वन संपदा के संरक्षण का संकल्प लें: CM यादव

By: Sanjay Purohit | Created At: 21 March 2024 12:09 PM


विश्व वानिकी दिवस पर MP नेताओं ने सभी वन जीव एवं पर्यावरण प्रेमियों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं दी

banner
प्रतिवर्ष 21 मार्च को विश्व वानिकी दिवस मनाया जाता है "विश्व वानिकी दिवस" जंगल और वनों के महत्व को समझने का और वृक्षारोपण के लिए प्रेरित करने का दिन है। इस अवसर पर नेताओं ने सभी वन जीव एवं पर्यावरण प्रेमियों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं दी।

विश्व वानिकी दिवस की आप सभी को बधाई: CM

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कहा कि, हरे-भरे वन, चतुर्दिक हरियाली ही धरा का श्रृंगार हैं, जीवन का आधार हैं। वनों और वन संपदा के संरक्षण से ही प्रकृति की सेवा की जा सकती है। विश्व वानिकी दिवस की आप सभी को बधाई। हमारे मध्यप्रदेश में मां नर्मदा के तट वन संपदा से समृद्ध हैं और हमारे लिए अमूल्य उपहार हैं। आइए, इस पावन अवसर पर हम वनों की रक्षा और वन संपदा के संरक्षण का संकल्प लें।

शिवराज सिंह चौहान के उद्गार

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, आप सभी को "विश्व वानिकी दिवस" की हार्दिक शुभकामनाएं। पेड़-पौधे ही धरती का वास्तविक श्रृंगार हैं। पेड़-पौधों से हमारी धरा और समृद्ध होगी व हमें अधिक शुद्ध प्राणवायु प्रदान कर स्वस्थ जीवन जीने का आशीर्वाद प्रदान करेगी आइये, विश्व वानिकी दिवस पर हम सब पर्यावरण बचाने की दिशा में योगदान देने और विशेष अवसर पर पौधरोपण का संकल्प लें।

विश्व वानिकी दिवस का उद्देश्य

विश्व वानिकी दिवस का उद्देश्य है कि "विश्व के सभी देश अपनी वन-सम्पदा की तरफ ध्यान दें और वनों को संरक्षण प्रदान करें" विश्व की जनसंख्या अगर 1-1 पेड़ लगाए तो पृथ्वी को फिर से हरा-भरा बनाया जा सकता है। हमने अपने लाभ के लिए पेड़ काट दिए, लेकिन जंगल कुदरत द्वारा दिए गए वे उपहार हैं, जो हमें जीवन के लिए जरूरी ऑक्सीजन देते हैं। जलवायु परिवर्तन जैसी तमाम समस्याओं से बचने के लिए हमें पेड़ लगाने चाहिए।