H

मिर्ची बाबा ने सपा को कहा अलविदा, जल्द हो सकते हैं बीजेपी में शामिल

By: Richa Gupta | Created At: 13 February 2024 12:24 PM


स्वामी वैराग्यानंद गिरी उर्फ मिर्ची बाबा ने सपा को अलविदा कह दिया है। जल्द ही मिर्ची बाबा भाजपा में शामिल हो सकते हैं। पंचायती निरंजनी अखाड़ा के महामंडलेश्वर आचार्य स्वामी वैराग्यानंद गिरी महाराज ने समाजवादी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से दिया इस्तीफा।

banner
स्वामी वैराग्यानंद गिरी उर्फ मिर्ची बाबा ने सपा को अलविदा कह दिया है। जल्द ही मिर्ची बाबा भाजपा में शामिल हो सकते हैं। पंचायती निरंजनी अखाड़ा के महामंडलेश्वर आचार्य स्वामी वैराग्यानंद गिरी महाराज ने समाजवादी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से दिया इस्तीफा। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को भेजा अपना इस्तीफा। पंचायती निरंजनी अखाड़ा के महामंडलेश्वर आचार्य वैराग्यानंद गिरी महाराज ने लिखा है, कि मैने समाजवादी पार्टी की सर्व धर्म की विचारधारा के साथ जुड़ा था। पर देखने में आ रहा है कि समाजवादी पार्टी अब अपनी मूल धारा से भटक कर एक वर्ग विशेष तक सीमित हो कर रह गई है।

हिंदुत्व विरोधी विचारधारा को प्रमाणित किया

इतना ही नहीं सम्पूर्ण हिंदुत्व की आस्था का केंद्र प्रभु श्रीराम की मूर्ति स्थापना में भी शामिल न होकर अपनी हिंदुत्व विरोधी विचारधारा को प्रमाणित किया। पार्टी के इस कृत्य से मेरा मन बहुत आहत हुआ है। इस कारण मैं पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूं। समाजवादी पार्टी को अलविदा कहने के बाद अब आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्यानंद गिरी महराज के भाजपा में जाने की संभावना हुई प्रबल। उनके इस कदम से भाजपा में शामिल होने की अटकलों को बल मिल गया।

मिर्ची बाबा 2019 के लोकसभा चुनाव में चर्चा में आए थे

हाल ही में पूर्व गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा से उनके निवास पर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्यानंद गिरी महराज ने की मुलाकात । इसी मुलाकात को भाजपा के निकट नजरिए से देखा जा रहा है। पहले कांग्रेस समर्थक माने जाते थे मिर्ची बाबा। मिर्ची बाबा 2019 के लोकसभा चुनाव में चर्चा में आए थे। जब उन्होंने भोपाल से लोकसभा चुनाव लड़ रहे कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के लिए प्रचार किया था और उन्होंने दिग्विजय सिंह की जीत का दावा करते हुए मिर्ची का हवन करने की बात कही थी।

बाद में मिर्ची बाबा पर एक महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाया था जिसमें करीब 1 साल तक मिर्ची बाबा जेल में रहे लेकिन बाद में कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया था। 2023 के विधानसभा चुनाव में वैराग्यनंद गिरी उर्फ मिर्ची बाबा ने समाजवादी पार्टी के टिकट पर बुधनी विधानसभा सीट पर शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ चुनाव लड़ा था।