H

Rajasthan News: कांग्रेस प्रत्याशी बृजेंद्र ओला बोले- 'मैं चुनाव नहीं लड़ना चाहता था, गहलोत-पायलट को मना कर दिया था....'

By: payal trivedi | Created At: 31 March 2024 12:03 PM


झुंझुनूं लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी बृजेंद्र ओला ने कहा- मैं तो चुनाव नहीं लड़ना चाहता था। पूर्व सीएम अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट को मना कर दिया था।

banner
Jaipur: झुंझुनूं लोकसभा सीट से (Rajasthan News) कांग्रेस प्रत्याशी बृजेंद्र ओला ने कहा- मैं तो चुनाव नहीं लड़ना चाहता था। पूर्व सीएम अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट को मना कर दिया था। बोला था- किसी को भी चुनाव लड़वा दो, मैं पूरी मदद करूंगा। शुक्रवार को ओला खेतड़ी के तातीजा में जनसंपर्क अभियान की शुरुआत के समय बोल रहे थे। उन्होंने कहा- गहलोत, पायलट, प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, प्रदेश प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा और आलाकमान के आग्रह के बाद मैदान में उतरा हूं। उन्होंने कहा- पार्टी को कुछ लोगों से जानकारी मिली होगी, सर्वे किया होगा। पार्टी का अस्तित्व संकट में था, इसलिए चुनाव लड़ने का निर्णय किया।

ओला लगातार 4 बार बने झुंझुनूं के विधायक

बृजेंद्र ओला वर्तमान में झुंझुनूं विधानसभा सीट से विधायक हैं। वे लगातार 4 बार झुंझुनूं विधानसभा से विधायक चुने गए हैं। उन्हें पहली बार लोकसभा का टिकट दिया गया है।

ओला की पत्नी भी लड़ चुकी है लोकसभा चुनाव

ओला के पिता शीशराम ओला झुंझुनूं लोकसभा सीट से सांसद और केंद्र में मंत्री रहे थे। कांग्रेस ने 2019 में श्रवण कुमार को टिकट दिया था। अब विधायक श्रवण कुमार का टिकट काटकर बृजेंद्र ओला को टिकट दिया गया है। बृजेंद्र की पत्नी राजबाला ओला भी लोकसभा का चुनाव लड़ चुकी हैं।

कांग्रेस ने अब तक तीन सीटों पर बदले उम्मीदवार

कांग्रेस में अब तक तीन सीटों पर उम्मीदवार (Rajasthan News) बदले जा चुके हैं। जयपुर, भीलवाड़ा और राजसमंद सीटों पर उम्मीदवार बदले गए हैं। आरएसएस समर्थक संस्था जयपुर डायलॉग्स से कनेक्शन विवाद में जयपुर से उम्मीदवाार बनाए गए सुनील शर्मा ने टिकट लौटा दिया था, जिसके बाद प्रताप सिंह खाचरियावास को उम्मीदवार बनाया गया था। भीलवाड़ा से दामोदर गुर्जर की जगह सीपी जोशी को टिकट दिया। राजसमंद से उम्मीदवार सुदर्शन रावत ने टिकट सरेंडर कर दिया था। उनकी जगह दामोदर गुर्जर को राजसमंद से टिकट दिया।