H

Rajasthan Weather Update: इस बार पड़ेगी भीषण गर्मी, प्रदेश के ये 13 जिले रेड जोन में, IMD ने दिए अच्छे मानसून के संकेत

By: payal trivedi | Created At: 02 April 2024 10:50 AM


राजस्थान समेत देशभर के अधिकांश राज्य इस बार गर्मी से तपेंगे। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) नई दिल्ली ने अप्रैल से जून तक का फोरकास्ट जारी किया है।

banner
Jaipur: राजस्थान समेत देशभर के अधिकांश राज्य इस (Rajasthan Weather Update) बार गर्मी से तपेंगे। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) नई दिल्ली ने अप्रैल से जून तक का फोरकास्ट जारी किया है। इसमें राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश समेत मध्य और दक्षिण भारत के राज्यों में भीषण गर्मी पड़ने की आशंका जताई है। गर्मी का सबसे ज्यादा असर राजस्थान के पश्चिमी बेल्ट (जालोर, बाड़मेर, जैसलमेर, जोधपुर, बीकानेर, पाली) के अलावा गुजरात, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में रहेगा। इन हिस्सों को तापमान सामान्य से ज्यादा रहने की आशंका को देखते हुए रेड जोन में रखा है।

ये जिले रेड जोन में

राजस्थान की बात करें तो अप्रैल से जून तक जोधपुर, जैसलमेर, बाड़मेर, जालोर, पाली, बीकानेर, श्रीगंगानगर, चूरू, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, भरतपुर, धौलपुर और करौली गर्मी के रेड जोन (टेम्प्रेचर 40 डिग्री से अधिक) में रहेंगे। वहीं, बाकी सभी जिले येलो जोन में रहेंगे। अप्रैल के पहले सप्ताह में तापमान थोड़ा कंट्रोल में रहेगा, लेकिन बाद में सामान्य से ऊपर जा सकता है। तेज गर्मी रहेगी। इस बीच एक-दो बार हीटवेव भी चल सकती है। राजस्थान के पश्चिमी जिलों में अप्रैल में पारा 46 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है।

वेस्टर्न डिस्टर्बेंस से बारिश भी अच्छी होगी

IMD ने अप्रैल में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस ज्यादा आने और उनसे (Rajasthan Weather Update) बारिश भी अधिक होने की संभावना जताई है। जम्मू-कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश के अलावा राजस्थान के कई हिस्सों में अप्रैल में सामान्य से ज्यादा बारिश होने का अनुमान है। राजस्थान में सामान्य तौर पर अप्रैल में 4.4MM औसत बारिश होती है।

IMD ने दिए अच्छे मानसून के संकेत

मौसम वैज्ञानिकों ने इस बार मानसून सीजन आने तक प्रशांत महासागर में ला नीना कंडीशन बनने की संभावना जताई है। ये संकेत भारत में अच्छे मानसून के हैं। दरअसल, अभी प्रशांत महासागर में अल-नीनो कंडीशन है। जो न्यूट्रल हो रही है। जून-जुलाई तक अल-नीनो कंडीशन के खत्म होने और ला नीना कंडीशन बनने की प्रबल संभावना है। ला नीना स्थिति में अमेरिकी महाद्वीप के पास पश्चिम में प्रशांत महासागर का तापमान सामान्य से नीचे जाने लगता है। यानी सी-सरफेस ठंडा होने लगता है। इसके प्रभाव से भारत में मानसून अच्छा रहने की प्रबल संभावना रहती है।

चूरू में आज पारा सामान्य से चार डिग्री नीचे रहा

राजस्थान में आज अधिकांश जिलों में पारा सामान्य से नीचे दर्ज हुआ। मौसम केंद्र जयपुर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक, चूरू में आज अधिकतम तापमान 32.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो यहां के सामान्य तापमान से 4.6 डिग्री नीचे रहा। जैसलमेर में आज अधिकतम तापमान 35, जोधपुर में 35.8, बीकानेर में 33.8, श्रीगंगानगर में 32.6 और बाड़मेर में 37.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। जयपुर में आज अधिकतम तापमान 34.5, भीलवाड़ा में 36.2, पिलानी में 33.5, कोटा में 37.6 और उदयपुर में 36 डिग्री सेल्सियस रहा। सबसे ज्यादा गर्मी डूंगरपुर जिले में रही। यहां पारा 37.7 डिग्री सेल्सियस रहा।