H

खिलौना उद्योग को बढ़ावा देने को सरकार, उद्योग आठ जुलाई को करेंगे बैठक

By: Sanjay Purohit | Created At: 08 July 2024 11:39 AM


सरकारी अधिकारी और खिलौना उद्योग घरेलू विनिर्माण तथा निर्यात को बढ़ावा देने के तरीकों पर आठ जुलाई को विस्तृत चर्चा करेंगे। एक अधिकारी ने बताया कि यह बैठक उद्योग संवर्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग की इकाई इन्वेस्ट इंडिया भारतीय खिलौना संघ के सहयोग से आयोजित कर रही है।

bannerAds Img
सरकारी अधिकारी और खिलौना उद्योग घरेलू विनिर्माण तथा निर्यात को बढ़ावा देने के तरीकों पर आठ जुलाई को विस्तृत चर्चा करेंगे। एक अधिकारी ने बताया कि यह बैठक उद्योग संवर्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी) की इकाई इन्वेस्ट इंडिया भारतीय खिलौना संघ के सहयोग से आयोजित कर रही है। बैठक में खिलौना क्षेत्र में बढ़ते अवसर तथा नियामक विकास, भारत को वैश्विक खिलौना केंद्र कैसे बनाया जाए, भारतीय खिलौना विनिर्माताओं को वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में कैसे एकीकृत किया जाए जैसे मुद्दों पर चर्चा होगी।

भारतीय खिलौना संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार गौतम ने कहा कि सरकार ने इस क्षेत्र की वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए पहले ही कई कदम उठाए हैं। घरेलू उत्पादों के प्रदर्शन के लिए यहां प्रगति मैदान में छह से नौ जुलाई तक एक अंतरराष्ट्रीय मेले का आयोजन किया जा रहा है। इसमें 35 देशों के 150 से अधिक विदेशी खरीदार शामिल होंगे। गौतम ने कहा कि 400 से अधिक घरेलू खिलौना कंपनियां अपने नवोन्मेषी उत्पादों का प्रदर्शन करेंगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने ‘मन की बात' कार्यक्रम में इस क्षेत्र का उल्लेख किया है, जिससे इस श्रम-प्रधान क्षेत्र के विकास को बढ़ावा देने में अतिरिक्त मदद मिली है।

गौतम ने यह भी सुझाव दिया कि सरकार स्टॉल धारकों को वित्तीय सहायता के उपाय भी प्रदान करे। उन्होने कहा कि आठ जुलाई को होने वाली ‘खिलौना उद्योग सीईओ बैठक' में डीपीआईआईटी, इन्वेस्ट इंडिया और घरेलू उद्योग के वरिष्ठ अधिकारी हिस्सा लेंगे। खिलौनों के निर्यात में 2014 से 240 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इस अवधि में आयात में 52 प्रतिशत की गिरावट आई है।