H

अमेरिकी डॉक्टरों का अनोखा कारनामा, पहली बार इंसान में किया सुअर की किडनी का सफल ट्रांसप्लांट

By: Sanjay Purohit | Created At: 22 March 2024 04:02 PM


पहली बार इंसान में जीन एडिटेड सुअर की किडनी को ट्रांसप्लांट किया गया है। अमेरिका के बोस्टन में डाक्टरों ने 62 वर्षीय मरीज में सुअर की किडनी को ट्रांसप्लांट किया।

banner
पहली बार इंसान में जीन एडिटेड सुअर की किडनी को ट्रांसप्लांट किया गया है। अमेरिका के बोस्टन में डाक्टरों ने 62 वर्षीय मरीज में सुअर की किडनी को ट्रांसप्लांट किया। मरीज रिचर्ड रिक स्लेमैन की पिछले शनिवार को सर्जरी की गई थी, जिसमें चार घंटे लगे। डाक्टरों ने कहा कि मरीज की सेहत में सुधार हो रहा है। उन्हें जल्द ही छुट्टी दे दी जाएगी।

स्लेमैन में किडनी ट्रांसप्लांट किए जाने से पहले सुअर के हानिकारक जीन को हटाने और मनुष्यों के साथ इसकी अनुकूलता में सुधार करने के लिए कुछ मानव जीन जोड़ने के लिए सुअर की किडनी के जीन को एडिट किया गया था। मैसाचुसेट्स जनरल अस्पताल ने गुरुवार को कहा कि यह पहली बार है कि जब जेनेटिक रूप से एडिटेड सुअर की किडनी को किसी जीवित व्यक्ति में प्रत्यारोपित किया गया है। इसके अलावा दो लोगों में सुअरों का दिल ट्रांसप्लांट किया गया था, हालांकि दोनों की कुछ महीनों के भीतर मृत्यु हो गई।

ट्रांसप्लांट सर्जन डा. तात्सुओ कवाई ने कहा कि टीम का मानना है कि सुअर की किडनी कम से कम दो साल तक काम कर सकती है। स्लेमैन का 2018 में किडनी प्रत्यारोपण किया गया था, लेकिन पिछले साल उन्हें डायलिसिस पर वापस जाना पड़ा। जब डायलिसिस संबंधी जटिलताएं उत्पन्न हुईं, जिसके लिए बार-बार प्रक्रियाओं की आवश्यकता होती थी, तो उनके डाक्टरों ने उन्हें सुअर की किडनी ट्रांसप्लांट करवाने का सुझाव दिया। जंतुओं की कोशिकाओं, ऊतकों या अंगों को इंसानों में प्रत्यारोपित करने की दिशा में यह बड़ी अपलब्धि है।