H

इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी में शुरू हुई MA भगवद् गीता

By: Sanjay Purohit | Created At: 04 July 2024 10:36 AM


इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (IGNOU) ने एक नया मास्टर डिग्री प्रोग्राम, एमए भगवद् गीता स्टडीज लॉन्च किया है। यह प्रोग्राम जुलाई 2024 सेशन से ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग (ODL) मोड में शुरू होगा।

bannerAds Img
इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी ने एक नया मास्टर डिग्री प्रोग्राम, एमए भगवद् गीता स्टडीज (MABGS), लॉन्च किया है। यह प्रोग्राम जुलाई 2024 सेशन से ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग (ODL) मोड में शुरू होगा। इच्छुक छात्र IGNOU की आधिकारिक वेबसाइट ignou.ac.in पर जाकर इस प्रोग्राम के लिए आवेदन कर सकते हैं। इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (IGNOU) डिस्टेंस लर्निंग के माध्यम से अलग-अलग अंडरग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट प्रोग्राम में डिग्री लेने का अवसर देती है।

IGNOU ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर नोटिफिकेशन जारी करते हुए बताया कि यह प्रोग्राम 500 सीटों के लिए उपलब्ध होगा और इसकी अवधि दो साल होगी। प्रोग्राम में कुल 80 क्रेडिट्स होंगे और फिलहाल यह हिंदी माध्यम में उपलब्ध है। भविष्य में इसे अंग्रेजी माध्यम में भी उपलब्ध कराने की योजना है। इस बार के सत्र में IGNOU ने भगवद् गीता में MA प्रोग्राम लॉन्च किया गया है। इससे पहले किसी भी यूनिवर्सिटी में श्रीमद्भागवत गीता डिग्री कोर्स को लेकर कोई डिग्री नहीं थी। हालांकि DU, JNU, BHU समेत कई विश्वविद्यालयों में इसे वैकल्पिक विषय के तौर पर जरूर पढ़ाया जा रहा था।

इस प्रोग्राम का पूरा नाम एमए भगवद् गीता अध्ययन (MABGS) है। एमए भगवद् गीता अध्ययन प्रोग्राम को प्रोफेसर देवेश कुमार मिश्र ने विकसित किया है, जो इसके कोऑर्डिनेटर भी होंगे। इस प्रोग्राम में एडमिशन के लिए उम्मीदवार का किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से बैचलर डिग्री या उसके समकक्ष कोई कोर्स करना अनिवार्य है।