H

चयनित अभ्यर्थियों ने की शिक्षक भर्ती 2018 प्रक्रिया जल्द पूरी करने की मांग

By: Ramakant Shukla | Created At: 13 September 2023 05:10 AM


पिछले 5 वर्षों से शिक्षक भर्ती 2018 कई विसंगतियों के कारण आज 2023 तक पूर्ण नहीं हुई है। पात्र चयनित अभ्यर्थी भर्ती पूर्ण कराने के लिए कई सालों से नए-नए तरीके से धरना, प्रदर्शन, आंदोलन कर रहे हैं। कई बार कई मंत्री, नेताओं और जिम्मेदार अधिकारियों को उन्होंने अपना मांग पत्र सौंपा है और कई बार तो जन सभाओं में पहुंचकर सीधे प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह को उनके हाथ में अपना मांग पत्र सौंपा है।

bannerAds Img
पिछले 5 वर्षों से शिक्षक भर्ती 2018 कई विसंगतियों के कारण आज 2023 तक पूर्ण नहीं हुई है। पात्र चयनित अभ्यर्थी भर्ती पूर्ण कराने के लिए कई सालों से नए-नए तरीके से धरना, प्रदर्शन, आंदोलन कर रहे हैं। कई बार कई मंत्री, नेताओं और जिम्मेदार अधिकारियों को उन्होंने अपना मांग पत्र सौंपा है और कई बार तो जन सभाओं में पहुंचकर सीधे प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह को उनके हाथ में अपना मांग पत्र सौंपा है। परंतु इसे अभ्यर्थियों का दुर्भाग्य कहे या फिर उनके द्वारा किए गए प्रयासों में कोई कमी रह गई, जिसके कारण इतने प्रयासों करने के बाद भी शिक्षक भर्ती 2018 आज तक अधूरी है। पात्र पीड़ित अभ्यर्थी आयु सीमा को पार कर रहे हैं। मानसिक और आर्थिक रूप से परेशान है।

हजारों अभ्यर्थियों का भविष्य अंधकार में

चुनावी वर्ष के होने के कारण अभ्यर्थियों ने सरकार की ओर आशा भरी नजरों से देखते हुए अपने प्रयासों में तेजी कर दी है और प्रतिदिन अभ्यर्थी लोक शिक्षण संचालनालय, वल्लभ भवन, सतपुड़ा भवन, शिक्षा मंत्री, जनजाति कार्य मंत्री एवं अपने जिले के विधायक एवं जनप्रतिनिधियों के बंगले पर पहुंच रहे हैं। जहां आज से 15 दिन पहले सभी जिम्मेदार अधिकारियों का कहना था कि शिक्षक भर्ती 2018 समाप्त हो चुकी है, वहीं आज सभी जिम्मेदारों के सुर बदल गए हैं उनका कहना है कि कार्य चल रहा है शीघ्र ही कुछ ना कुछ अपडेट आएगी, कार्य आपके हित में किया जाएगा। वही माननीय शिक्षा मंत्री द्वारा 12000 पदों पर चुनाव आचार संहिता से पहले भर्ती पूर्ण करने की बात कही गई है। परंतु आगामी अक्टूबर माह में चुनावी आचार संहिता लग जाएगी, जिसके कारण चयनित पात्र अभ्यर्थियों को यह चिंता सता रही है। कहीं ऐसा ना हो की आश्वासन और इंतजार में समय बीत जाए और हजारों अभ्यर्थियों का भविष्य अंधकार मय हो जाए।

जल्द लागू हो सकती है आचार संहिता

इस वर्ष मध्य प्रदेश में चुनाव होना है, ऐसे में जिम्मेदार अधिकारियों का यह कहना कि आपके लिए कार्य चल रहा है, 10 से 15 दिन का समय लगेगा। ऐसे में अभ्यर्थी अस-मंजस के भंवर में फंसे हुए हैं। उन्हें अपने भविष्य की चिंता सता रही है, कहीं उनके तथा उनके भविष्य के साथ धोखा ना हो जाए क्योंकि ऐसे आश्वासन हमें कई बार मिले हैं परंतु वे सभी बेनतीजा रहें। दूसरी ओर जल्द ही आचार संहिता लागू होने वाली है,वहीं पुलिस प्रशासन भी सख्त हो गया है।