H

विधानसभा सत्र के बाद गांव-गांव पहुंचेगी सरकार

By: Ramakant Shukla | Created At: 11 February 2024 04:26 PM


मध्यप्रदेश विधानसभा सत्र के बाद सरकार गांव-गांव पहुंचेगी। भाजपा के गांव चलो अभियान के अंतर्गत मुख्यमंत्री, मंत्री, सांसद और विधायक गांव पहुंचेंगे। केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद करेंगे। पार्टी का जनाधार मजबूत करके वोट प्रतिशत बढ़ाने के लिए मतदाताओं से संपर्क करने के लिए कार्यकर्ताओं को प्रेरित करेंगे।पार्टी ने नौ फरवरी से गांव चलो अभियान शुरू किया है।

banner
मध्यप्रदेश विधानसभा सत्र के बाद सरकार गांव-गांव पहुंचेगी। भाजपा के गांव चलो अभियान के अंतर्गत मुख्यमंत्री, मंत्री, सांसद और विधायक गांव पहुंचेंगे। केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद करेंगे। पार्टी का जनाधार मजबूत करके वोट प्रतिशत बढ़ाने के लिए मतदाताओं से संपर्क करने के लिए कार्यकर्ताओं को प्रेरित करेंगे।पार्टी ने नौ फरवरी से गांव चलो अभियान शुरू किया है।

भाजपा कार्यकर्ता गांव-गांव पहुंचाएंगे मोदी सरकार की योजनाएं

भाजपा कार्यकर्ता गांव-गांव तक पहुंचेंगे और ग्रामीणों से मोदी सरकार की जन-कल्याणकारी योजनाओं के लाभ के संबंध में चर्चा करेंगे। साथ ही लाभांवित लोगों से भेंट कर उनके अनुभव सुनेंगे। इसके अलावा भाजपा कार्यकर्ता व संगठन पदाधिकारियों के साथ बूथ समिति और पन्ना प्रमुखों का कार्य निर्धारित करना, मतदाता सूची का निरीक्षण करना, वाट्सएप ग्रुप बनवाना, संगठन एप डाउनलोड कराना, विगत चुनावों की समीक्षा भी करेंगे। जनप्रतिनिधियों, जनसंघ कालीन कार्यकर्ताओं, विचार परिवार कार्यकर्ताओं, पार्टी से जुड़े नवीन कार्यकर्ताओं से संपर्क करना। युवा, महिला, व्यावसायिक, लाभार्थी, सामाजिक और धार्मिक मतदाताओं से संपर्क किया जाएगा। धार्मिक स्थलों के दर्शन कोंगे और स्वच्छता अभियान में शामिल भी होंगे।

गांव चलो अभियान के माध्यम से 58 प्रतिशत वोट हासिल करने का लक्ष्य

केंद्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं को धरातल पर गांव चलो अभियान के माध्यम से उतारकर 58 प्रतिशत वोट हासिल करने का लक्ष्य हासिल किया जाएगा।