H

रसिया कॉर्नर की गेर पहुंची राजवाड़ा, CM पहुंचे इंदौर, कुछ देर में होंगे गेर में शामिल

By: Sanjay Purohit | Created At: 30 March 2024 01:19 PM


इंदौर में रंगपंचमी की गेरों का सिलसिला शुरू हो गया है। दिनभर रंग-गुलाल इंदौर के आसमान पर छाया रहेगा। यह करीब 100 साल पुरानी परंपरा है, जिसका निर्वहन इंदौर में हो रहा है।

banner

भजन गायक सबसे आगे

राजवाड़ा पर पहुंची रसिया कॉर्नर की गेर में सबसे आगे गायक भजन गाते हुए चल रहे हैं। पीछे युवकों की टोली डांस कर रही है। एक गाड़ी से रंग से भरे गुब्बारे लोगों पर फेंके जा रहे हैं। माहौल में गजब का उत्साह है।

पहली बार मुख्यमंत्री होंगे गेर में शामिल

मुख्यमंत्री मोहन यादव भी इंदौर की इस परंपरा के साक्षी बनेंगे। यह आजाद भारत में पहला मौका है जब प्रदेश का मुख्यमंत्री इंदौर की गेर में शामिल होने वाला है। वे करीब दो से ढाई घंटे गेर में भाग लेंगे और लोगों पर रंग उड़ाएंगे। मध्य क्षेत्र के पांच किलोमीटर लंबे रुट पर गेर में शामिल मिसाइलें आसमान को सतरंगी करते हुए चलेगी। इसके अलावा रंगों से सराबोर करने वाली पिचकारियां भी गेर में शामिल होगी।

100 साल पुरानी परंपरा कोविड में हुई थी ब्रेक

इंदौर में 100 साल से गेर निकालने की परंपरा है। कोविड के दो साल यह परंपरा ब्रेक हुई। तब गेर नहीं निकल पाई थी। हर साल इसमें लाखों लोगों की भीड़ जुटती है। नगर निगम गेर समाप्त होने के बाद पूरे रुट पर सफाई अभियान चलाएगा।