H

कांग्रेस के गढ़ को भेदने की तैयारी में भाजपा, नकुलनाथ के सामने युवा चेहरा उत्कर्ष के नाम पर लग सकती है मुहर

By: Sanjay Purohit | Created At: 13 February 2024 11:58 AM


मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा की बम्पर जीत के बाद भाजपा आलाकमान लोकसभा चुनाव को तैयारी को लेकर मास्टर प्लान तैयार

banner
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा की बम्पर जीत के बाद भाजपा आलाकमान लोकसभा चुनाव को तैयारी को लेकर मास्टर प्लान तैयार कर लिया है। कुछ दिनों पहले ही क्लस्टर प्रभारी एवं कैबिनेट मंत्री कैलाश विजयवर्गीय छिंदवाड़ा दौरे पर आए थे, जहां उन्होंने भाजपा कार्यालय में लगभग 4 घंटे बंद कमरे में पार्टी पदाधिकारी समेत अन्य नेताओं से वन-टू-वन चर्चा की थी। जिसमें कुछ नेताओं ने लोकसभा के लिए अपनी मजबूती से अपनी दावेदारी पेश की थी उसके बाद से ही जिले में लोकसभा प्रत्याशी को लेकर बाजार गर्म है। हालांकि यह तो भाजपा आलकमान ही तय करेगा कि लोकसभा के लिए योग्य उम्मीदवार कौन होगा। भाजपा नेतृत्व अब लोकल चेहरे पर दांव लगाती है या किसी बाहरी प्रत्याशी को मैदान में उतार कर किस्मत आजमाती है। क्योंकि छिंदवाड़ा लोकसभा सीट कमलनाथ का गढ़ माना जाता है। कमलनाथ खुद इस सीट से 9 बार लोकसभा चुनाव जीत कर सांसद के साथ अन्य विभागों के केंद्रीय मंत्री रह चुके है। जिनमें मात्र एक बार ही उन्हें सुंदर लाल पटवा से हार का सामना करना पड़ा था। उसके बाद से ही यह सीट कांग्रेस की रिजर्व सीट मानी जाती है। यह तो तय है कि भाजपा इस बार लोकसभा चुनाव में प्रत्याशी को लेकर चौकाने वाले नाम पर मुहर लगा सकती है।

कौन है उत्कर्ष सिंह

युवाओं में काफी लोकप्रिय हो चुके उत्कर्ष सिंह पूर्व मंत्री चौधरी चन्द्रभान सिंह के बड़े पुत्र है। उत्कर्ष चौधरी 31 वर्ष के है वह इंजीनियर के साथ आई.ए.एस. की परीक्षा दे भी चुके हैं। वे पिछले 10 वर्षों से भाजपा में सक्रिय हैं। जनसंघ एवं भाजपा के संस्थापक स्व. चौधरी कुबेरसिंह के नाती हैं। चौधरी उत्कर्ष का नाम उस समय जोरों से मीडिया में आया जब उनका एक वीडियो जमकर वायरल हुआ। जिसमें उन्होंने राष्ट्र निर्माण के लिए अपना सर्ववश अर्पण करने वाले गाना से कार्यकर्ताओं में जोश भरा। उनके इस वीडियो का लोकार्पण पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया था। युवा उत्कर्ष चौधरी को जिले के सभी कार्यकर्ता जानते हैं। वे लगातार कार्यकर्ताओं के संम्पर्क में हैं। भाजपा युवा नेताओं को आगे ला रही है। चौधरी उत्कर्ष को लोकसभा का प्रत्याशी बनाया जाता है तो दो युवाओं के बीच लोकसभा का चुनाव होगा।