H

Rajasthan Weather Update: प्रदेश में 5 अप्रैल से एक्टिव होगा दूसरा सिस्टम, कई जिलों में होगी बारिश, गर्मी से मिलेगी राहत

By: payal trivedi | Created At: 04 April 2024 09:44 AM


राजस्थान में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के असर से बुधवार दोपहर बाद चूरू और सीकर जिले के कई इलाकों में बारिश हुई।

banner
Jaipur: राजस्थान में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के असर से बुधवार दोपहर (Rajasthan Weather Update) बाद चूरू और सीकर जिले के कई इलाकों में बारिश हुई। बीकानेर और नागौर के कुछ ग्रामीण इलाकों में भी हल्की बूंदाबांदी हुई। जोधपुर, बीकानेर, जयपुर, भरतपुर और अजमेर संभाग के जिलों में बादल छाए रहे। इससे दिन के तापमान में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस तक गिरावट हुई और लोगों को गर्मी से काफी राहत मिली।

5 अप्रैल से उत्तर भारत में दूसरा सिस्टम होगा एक्टिव

जयपुर मौसम केंद्र से जारी फोरकास्ट के मुताबिक, इस सिस्टम का असर एक ही दिन दिखेगा। गुरुवार से आसमान साफ रहेगा, लेकिन तापमान कंट्रोल रहेगा। वहीं, 5 अप्रैल से एक दूसरा सिस्टम फिर से उत्तर भारत में एक्टिव होगा, जिसके असर से राज्य में कुछ जगह आंशिक तौर पर बादल छा सकते हैं, लेकिन बारिश होने की संभावना कम है। इस कारण अगले 2-3 दिन राज्य में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से नीचे ही रह सकता है। पश्चिमी राजस्थान में जोधपुर, जैसलमेर, बीकानेर, चूरू और नागौर में आज सुबह से आसमान में बादल छाए रहे। चूरू शहर के अलावा सरदारशहर और उसके आसपास दोपहर बाद घने काले बादल छाए। बारिश हुई। सीकर के फतेहपुर और उसके आसपास के एरिया में भी दोपहर बाद हल्की बारिश हुई।

पाकिस्तान-राजस्थान के बॉर्डर पर बना हुआ है साइक्लोनिक सर्कुलेशन

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक, वर्तमान में उत्तर भारत (Rajasthan Weather Update) में एक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस एक्टिव है। इस सिस्टम के असर से पाकिस्तान-राजस्थान के बॉर्डर पर एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना है। वहीं अरब सागर से मॉइश्चर मिलने से यहां आसमान में बादलों का समूह बन गया। हालांकि ये सिस्टम कमजोर है, जिसके कारण राजस्थान में ज्यादातर इलाकों में बादल तो छाए हैं, लेकिन बारिश बहुत कम है।