H

राजस्थान में Paper Leak गैंग से दो दिन पूछताछ करेगी SOG, 14 ट्रेनी सब इंस्पेक्टर रिमांड पर, 10 लाख में खरीदकर 50 लाख रूपए में बेचे थे पेपर

By: payal trivedi | Created At: 20 March 2024 11:52 AM


राजस्थान की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में हुई सब-इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा-2021 का पेपर लीक हुआ था। इसे राजस्थान पुलिस की स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप एजेंसी ने भी सही माना है।

banner
Jaipur: राजस्थान की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के कार्यकाल (Paper Leak) में हुई सब-इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा-2021 का पेपर लीक हुआ था। इसे राजस्थान पुलिस की स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप एजेंसी ने भी सही माना है। इस सनसनीखेज मामले का खुलासा करते हुए SOG ने 14 ट्रेनी सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार किया है। वहीं, पेपर लीक गैंग में शामिल लाइब्रेरियन शिवरतन मोट, एसआई राजेंद्र उर्फ राजू, टीचर राजेंद्र यादव और पटवारी हर्षवर्धन को दो दिन की रिमांड पर भेजा गया है। गिरफ्तार हुए ट्रेनी सब इंस्पेक्टरों में इस परीक्षा का टॉपर भी शामिल है। हैरत की बात यह है कि लीक हुआ पेपर 10 लाख रुपए में खरीदकर 50 लाख रुपए तक बेचा गया था।

ट्रेनी SI के घर से मिली कई जानकारी

साथ ही एसआई भर्ती 2014 में 10 लाख रुपए देकर पेपर खरीदने वाले जगदीश सिहाग और एसआई भर्ती 2021 में डमी कैंडिडेट बैठाकर पास करने वाली इंदूबाला को चार दिन की रिमांड पर भेजा गया है। इससे पहले 14 में से 13 एसआई के घरों से सोमवार को एसओजी की टीम ने रेड मारी थी। इसमें कई अहम जानकारी मिली है। इन ट्रेनी एसआई के घर से कुछ अन्य अभ्यर्थियों के नाम, रोल नंबर की ओएमआर शीट, पेपर और रुपयों के लेन देन की जानकारी मिली है। वनपाल, लाइब्रेरियन, ग्रेड थर्ड टीचर परीक्षाओं से संबंधित भी दस्तावेज मिले हैं।

DIG ने की रेड की मॉनिटरिंग

एडीजी ने वीके सिंह ने बताया - सोमवार को जयपुर के जगतपुर में एसकेआईटी रोड पर श्याम रेजीडेंसी स्थित डिप्टी एसपी ओमप्रकाश गोदारा के आवास पर छापा मारा गया था। ओमप्रकाश गोदारा का बेटा करणपाल भी गिरफ्तार एसआई में शामिल है। रेड के दौरान स्थानीय पुलिस अधिकारी भी मौजूद रहे। पूरी रेड की मॉनिटरिंग डीआईजी परिस देशमुख व योगेश दाधीच ने की। जोधपुर, बाड़मेर, चूरू में भी रेड की गई थी। सभी जगह से देर रात जयपुर पहुंची।

पेपर लीक को लेकर मिले कई सबूत

एडीजी वीके सिंह ने बताया- रेड में गिरफ्तार एसआई (Paper Leak) के घरों से उनके अलावा अन्य अभ्यार्थियों के नाम, रोल नंबर की ओएमआर शीट, परीक्षाओं के पेपर, एडमिट कार्ड, परीक्षाओं में गिरोह और एसआई के बीच में रुपए ट्रांजेक्शन के कागजात मिले हैं। वनपाल, लाइब्रेरियन, थर्डग्रेड टीचर परीक्षाओं के भी अभ्यार्थियों के दस्तावेज प्राप्त हुए हैं। जानकारी अनुसार टीम के जयपुर वापस लौटने के बाद रात को एसओजी की टीम ने जब्त दस्तावजों को आरोपियों के सामने रखा। इन लोगों ने दस्तावेजों के बारे में जानकारी दी। जब्त दस्तावेज में एसओजी को इन ट्रेनी एसआई से अन्य गैंग की भी जानकारी मिली है।​ जो की पेपर लीक में काफी समय से एक्टिव हैं। बता दें कि एसओजी ने सोमवार को सभी 14 एसआई का एक दिन का रिमांड लिया था।

SOG ने सोमवार को इन जगहों पर रेड की थी

- एसआई परीक्षा में टॉप करने वाले नरेश कुमार के सांचौर के चीतलवाना स्थित आवार पर रेड की गई। ये रेड सांचौर में इंस्पेक्टर जय प्रकाश पूनिया ने की।

- सुरेंद्र कुमार के सांचौर के सरनाउ स्थित आवास पर रेड की। जो इंस्पेक्टर सुरेश चंद ने की।

- राजेश्वरी के सांचौर में चितलवाना स्थित आवास पर रेड की गई। जो इंस्पेक्टर ओम प्रकाश मातवा ने की।

- मनोहर लाल गोदारा के बाड़मेर में बांकासर स्तिथ आवास पर रेड की गई। जो एडिशनल एसपी किशोर सिंह ने की।

- गोपी राम जांगू के बाड़मेर में धोरीमन्ना स्थित आवास पर रेड की गई। जो इंस्पेक्टर नेमी चंद ने की।

- श्रवण कुमार के बाड़मेर स्थित आवास पर रेड की गई। जो की इंस्पेक्टर गुरूमेल सिंह ने की।

- नारंगी कुमारी के बाड़मेर में गुढामानाली स्थित आवास पर रेड की घई। जो बाड़मेर में देवेंद्र कुमार ने की।

- प्रेमसुखी के जोधपुर स्थित आवास पर रेड की गई। जो इंस्पेक्टर मनीष चारण ने की।

- चंचल कुमारी के जोधपुर स्थित आवास पर रेड की गई। जो इंस्पेक्टर मुकेश खराडीया ने की।

- करणपाल गोदारा के जयपुर में जगतपुरा स्थित आवास पर रेड की गई। जो एडिशनल एसपी चिरंजी लाल ने की।

- राजेंद्र कुमार यादव के चौमूं में कालाडेरा स्थित आवास पर रेड की गई। जो इंस्पेक्टर एकताराज ने की।

- विवेक भांबू के चूरू स्थित आवास पर रेड की गई। जो इंस्पेक्टर हरिपाल सिंह ने की।

- रोहिताश्व कुमार के चूरू स्थित आवास पर रेड की गई। यहां एडिशनल एसपी धर्माराम गिला और एसओजी चूरू यूनिट ने छापा मारा है।​​​​​​