H

Please upgrade the app if you see a red line at the top. To upgrade the app, click on this line.

मेरे जितने दोस्त पाकिस्तान में हैं उतने दुश्मन भारत में नहीं - कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर

By: Richa Gupta | Created At: 24 August 2023 02:39 PM


कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने अपनी आत्मकथा 'मेमोयर्स ऑफ ए मावेरिक- द फर्स्ट फिफ्टी इयर्स (1941-1991)' में कई ऐसी बातें लिखी हैं, जिन पर विवाद हो सकता है। अय्यर ने पाकिस्तान के मसले पर कहा कि भारत को पाकिस्तान के साथ बातचीत पहले ही शुरू कर देनी चाहिए थी।

banner
कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने अपनी आत्मकथा 'मेमोयर्स ऑफ ए मावेरिक- द फर्स्ट फिफ्टी इयर्स (1941-1991)' में कई ऐसी बातें लिखी हैं, जिन पर विवाद हो सकता है। आपको बता दें कि, किताब में अय्यर ने पूर्व पीएम राजीव गांधी को लेकर लिखा है कि, तत्काल प्रधानमंत्री द्वारा अयोध्या में राम मंदिर के ताले खुलवाना और शिलान्यास की अनुमति देने का फैसला गलत था। उन्होंने लिखा कि, मुझे लगता है कि, बाबरी मस्जिद मुद्दे को ठीक प्रकार से हैंडल नहीं किया गया। राम मंदिर का शिलान्यास गलत था। राजीव गांधी ने आर के धवन को PMO में लाकर भयानक गलती कर दी थी, जिन्होंने तुरंत उस कार्यालय का राजनीतिकरण कर दिया।

बाजेपी के पहले पीएम नरसिम्हा राव थे - कांग्रेस नेता

कांग्रेस नेता अय्यर ने पूर्व पीएम नरसिम्हा राव को 'सांप्रदायिक' करार देते हुए देश का 'बीजेपी का पहला पीएम' बताया है। उन्होंने अपनी इस किताब में लिखा कि, भाजपा के पहले पीएम अटल बिहारी वाजपेयी नहीं, नरसिम्हा राव थे। काम करते हुए मुझे पता कि पी वी नरसिम्हा राव कितने सांप्रदायिक और कितने हिंदूवादी थे। कांग्रेस के दिग्गज नेता मणिशंकर अय्यर ने आगे कहा कि, राजीव गांधी को पीएम बनाया गया तो मुझे हैरानी हुई। एक पायलट देश कैसे चला पाएगा, लेकिन जब उनका काम देखा, तो तारीफ की।

पाकिस्तान के मसले पर बोले अय्यर

मणिशंकर अय्यर ने पाकिस्तान के मसले पर कहा कि भारत को पाकिस्तान के साथ बातचीत पहले ही शुरू कर देनी चाहिए थी। मनमोहन सिंह ने कश्मीर पर बातचीत की। आज की सरकार टेबल पर पाकिस्तान से बात नहीं कर सकती। उन्होंने कहा कि राजीव पायलट से पीएम बने तो मैं चौंक गया लेकिन जैसे ही बाद उन्होंने देश संभाला मैं उनका मुरीद हो गया। अय्यर ने कहा कि मेरे जितने दोस्त पाकिस्तान में हैं, उतने दुश्मन भारत में नहीं।

कांग्रेस में बिना पद के हैं?

वहीं, जब मणिशंकर अय्यर से ये पूछा गया कि कांग्रेस में सालों से पद न मिलने की टीस है? तो जवाब में उन्होंने कहा कि राजीव जी के साथ अधिकारी के तौर काम किया, सोनिया जी ने मंत्री, सांसद बनाया। पिछले कई सालों से आप कांग्रेस में बिना पद के हैं? इस सवाल के जवाब में अय्यर ने कहा कि सोनिया जी यहां आईं थीं आपको ये सवाल उनसे करना चाहिए था, आप नहीं कर पाए मिस कर दिया आपने।

Read More: कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर का बड़ा बयान, बोले - गलत था राजीव गांधी का राम मंदिर के ताले खुलवाना का फैसला