H

Bihar Politics: सीएम नीतिश कुमार आज एनडीए के 8 मंत्रियों के बीच करेंगे विभागों का बंटवारा, 12 फरवरी से शुरू होगा बजट सत्र

By: payal trivedi | Created At: 03 February 2024 12:57 PM


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज एनडीए के आठ मंत्रियों के बीच विभाग का बंटवारा कर देंगे। शपथ ग्रहण के सात दिन बाद एनडीए सरकार के जिन मंत्रियों के बीच विभाग का बंटवारा होगा उनमें भाजपा के दो उप मुख्यमंत्री के अलावा छह अन्य मंत्री सम्मिलित हैं।

banner
Patna: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज एनडीए (Bihar Politics) के आठ मंत्रियों के बीच विभाग का बंटवारा कर देंगे। शपथ ग्रहण के सात दिन बाद एनडीए सरकार के जिन मंत्रियों के बीच विभाग का बंटवारा होगा उनमें भाजपा के दो उप मुख्यमंत्री के अलावा छह अन्य मंत्री सम्मिलित हैं। उप मुख्यमंत्री सम्राट चौधरी एवं विजय कुमार सिन्हा के अलावा मंत्री डॉ. प्रेम कुमार, जदयू से विजय कुमार चौधरी, श्रवण कुमार, विजेंद्र यादव, हम के संतोष कुमार सुमन एवं निर्दलीय सुमित कुमार सिंह हैं।

12 फरवरी को शुरू होगा बजट

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की इस पहल के बाद बिहार विधान मंडल के बजट सत्र की तैयारी में मंत्रियों को समय मिल जाएगा। 12 फरवरी से बजट सत्र शुरू होगा। पहली मार्च तक चलेगा। 12 फरवरी को राज्यपाल का अभिभाषण होगा। साथ ही विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग और नए विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। इससे पहले बजट सत्र में 12 फरवरी को 11.30 में राज्यपाल का अभिभाषण होगा। वहीं, विधान मंडल के सत्र के पहले दिन सरकार के द्वारा विश्वास मत प्रस्ताव पेश करेगी। 13 फरवरी को विधान मंडल में बजट पेश करेगी। हालांकि इस बार बजट सत्र काफी छोटा होगा। महज 11 कार्यदिवस में ही होगा।

बजट सत्र काफी हंगामेदार रहने वाला

इस बार का बजट सत्र काफी हंगामेदार (Bihar Politics) रहने वाला है। इस बार का बजट सत्र काफी हंगामें दार होने के आसार दिख रहे हैं, क्योंकि विपक्ष भी काफी मजबूती स्थिति में है। विपक्ष के पास 114 विधायक है। बड़ी वजह यह है कि नई सरकार का गठन हुआ है एवं राजद महागठबंधन के विधायक नौकरी और जाति आधारित गणना सहित कई मुद्दों पर सरकार को घेरने का प्रयास करेंगे। पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने पहले ही कह दिया है कि विधानसभा में देखिएगा अभी तो खेल होना बाकी है। देखना होगा कि 11 दिन के इस बजट सत्र में बिहार की जनता के लिए क्या कुछ होने वाला है या पूरे 11 दिन का सत्र हंगामें की भेंट चढ़ जाएगा।