H

विधानसभा में जमकर गरजे हेमंत सोरेन, बोले - मेरी गिरफ्तारी भारत के लोकतंत्र का काला अध्याय

By: Durgesh Vishwakarma | Created At: 05 February 2024 01:28 PM


झारखंड के सीएम चंपई सोरेन ने यह कहते हुए झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) प्रमुख हेमंत सोरेन को क्लीन चिट दे दी कि, उन्हें ऐसे काम के लिए गिरफ्तार किया गया है जो उन्होंने किया ही नहीं।

banner
जमीन घोटाला मामले में गिरफ्तार झारखंड के पूर्व सीएम व झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) प्रमुख हेमंत सोरेन ने आज यानी की सोमवार (5 फ़रवरी) को दावा किया कि, कथित भूमि घोटाले में ED द्वारा 31 जनवरी को उनकी गिरफ्तारी में राज्यपाल भी शामिल हैं। इसके साथ ही हेमंत सोरेन ने अपनी गिरफ्तारी को "भारत के लोकतंत्र में काला अध्याय" बताया है।

आरोप साबित हो गया तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा

वहीं झारखंड के सीएम चंपई सोरेन ने यह कहते हुए झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) प्रमुख हेमंत सोरेन को क्लीन चिट दे दी कि, उन्हें ऐसे काम के लिए गिरफ्तार किया गया है जो उन्होंने किया ही नहीं। पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने अपने विधानसभा भाषण में ED को भूमि घोटाले से अपना संबंध साबित करने की चुनौती दी। JMM प्रमुख ने कहा कि, आज मुझे 8.5 एकड़ जमीन घोटाले के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। यदि उनमें हिम्मत है तो वे मेरे नाम पर दर्ज उक्त जमीन के दस्तावेज दिखाएं। हेमंत सोरेन ने आगे कहा कि, अगर यह साबित हो गया तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।

हेमंत सोरेन को ED ने पूछताछ के लिए 10 समन भेजे थे

आपको बता दें कि, झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) प्रमुख हेमंत सोरेन को ED ने पूछताछ में शामिल होने के लिए 10 समन भेजे थे। आखिरी समन में उन्हें 29 जनवरी या 31 जनवरी में से एक तारीख बताने के लिए कहा गया था, जिस दिन वो पूछताछ में शामिल हो सकते हों। हालाँकि, सोरेन ने इसका कोई जवाब नहीं दिया, 29 जनवरी को वे अचानक गायब हो गए। पता चला वे दिल्ली में हैं, जब दिल्ली स्थित उनके बंगले पर पुलिस पहुंची, तो सोरेन वहां से भी गायब मिले।

कोर्ट ने सोरेन को 5 दिनों के लिए हिरासत में भेजा

वहां पुलिस को 38 लाख नकद, दो BMW मिले और कुछ डाक्यूमेंट्स मिले, जिसे जब्त कर लिया गया। 29 की रात में पूर्व सीएम हेमंत सोरेन का वीडियो सन्देश आया कि, वे 31 जनवरी को अपने घर पर सवालों के जवाब देंगे। ED ने तय तारीख को उनसे लंबी पूछताछ की और फिर गिरफ्तार कर लिया। कोर्ट में पेश किए जाने के बाद हेमंत सोरेन को 5 दिनों के लिए हिरासत में भेज दिया गया। हालाँकि, उन्हें फ्लोर टेस्ट में शामिल होने की अनुमति दे दी है।