H

स्वच्छता सर्वे : अब मानसून के बाद ही सर्वे के लिए आएगी केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की टीम

By: Sanjay Purohit | Created At: 28 June 2024 07:20 AM


स्वच्छता सर्वे -2024 के सर्वे के लिए केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की टीम मानसून की समाप्ति के बाद ही आएगी।

bannerAds Img
स्वच्छता सर्वे -2024 के सर्वे के लिए केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की टीम मानसून की समाप्ति के बाद ही आएगी। पहले इसका कार्यक्रम जुलाई में प्रस्तावित था, लेकिन बारिश में सडक़-नाली समेत अन्य समस्याओं के होने से इस दौरे को केंद्रीय स्तर पर ही टाल दिया गया है।

इस सर्वेक्षण में 9500 अंक होंगे। इसमें 60 प्रतिशत यानी 5705 अंक सर्विस लेवल प्रोग्रेस पर तय किए हंै। जबकि सर्टिफिकेशन पर 26 प्रतिशत यानी 2500 अंक और 14 प्रतिशत यानी 1295 अंक जन आंदोलन के लिए रहेंगे। सर्वेक्षण 2024 की टूल किट के अनुसार इस बार की थीम थ्री आर यानी रिड्यूज, रियूज, रिसाइकिल और बैकलेन पर विशेष फोकस किया जाएगा। खास बात यह है कि बैकलेन को स्वच्छता अभियान में पहली बार शामिल किया गया है।

छत के पिछले हिस्से में कचरा फेंकने की आदत बदलना मकसद

बैकलेन पर फोकस करने का कारण यह है कि सामान्यत: लोग घरों से निकलने वाले कचरे को छत से पीछे वाले हिस्से में फेंक देते हैं। पूर्व के दशकों में घरों के पीछे स्थित गलियों में बच्चे खेलते थे और वहां पर स्वच्छता रहती थी। अब ऐसे हालात नहीं हैं।

सामुदायिक व सार्वजनिक टॉयलेट पर विशेष ध्यान

स्वच्छता सर्वेक्षण-2024 के सर्वे में सभी शहरों में सामुदायिक व सार्वजनिक टॉयलेट की सफाई पर इस बार विशेष ध्यान दिया जाएगा।