H

पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की कथा अब होगी 27-28 सितंबर को, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने दी जानकारी

By: Richa Gupta | Created At: 13 September 2023 07:44 AM


मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में होने वाली बागेश्वर धाम के महंत पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की कथा की तारीखों में बदलाव किया गया है। मौसम विभाग द्वारा 14 से 19 सितंबर तक तेज बारिश के अलर्ट के मद्देनजर ये बदलाव किय गया है।

bannerAds Img
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में होने वाली बागेश्वर धाम के महंत पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की कथा की तारीखों में बदलाव किया गया है। मौसम विभाग द्वारा 14 से 19 सितंबर तक तेज बारिश के अलर्ट के मद्देनजर ये बदलाव किय गया है। अब यह कथा 27 और 28 सितंबर को होगी। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने बताया कि कथा से पहले 26 सितंबर को शोभायात्रा निकलेगी। गुरूवार 28 सितंबर को दिव्य दरबार लगेगा। इसी दिन अनंत चतुर्दशी उत्सव भी मनाया जायेगा।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने दी जानकारी

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने बताया कि मौसम विभाग द्वारा 14 से 19 सितंबर के बीच भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। इसके चलते श्री हनुमंत कथा की तारीख में बदलाव किया गया है। पहले 14 से 17 सितंबर तक कथा और शोभायात्रा का आयोजन होना था, जो अब 26 से 28 सितंबर के बीच होगा। उन्होंने कहा कि 26 सितंबर को शोभायात्रा निकलेगी और 27 और 28 सितंबर को करोंद के पीपुल्स मॉल परिसर में कथा होगी। दिव्य दरबार 28 सितंबर को लगेगा। बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर के सान्निध्य में अनंत चतुर्दशी का कार्यक्रम भी होगा। गणेश-पूजन और विसर्जन किया जाएगा।

शोभायात्रा निकलेगी

कथा के पहले धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के सान्निध्य में 26 सितंबर को दोपहर 3 बजे से अन्ना नगर चौराहे से प्रारंभ होकर शोभायात्रा कैलाश नगर, रचना नगर, ओल्ड सुभाष नगर, पंजाबी बाग, परिहार चौराहा, अशोक विहार, महामाई बाग, स्टेशन, चांदबड़, सेमरा मंडी, सुभाष कॉलोनी, सम्राट कॉलोनी, विवेकानंद पार्क अशोका गार्डन सहित कई इलाकों से गुजरेगी। इस दौरान 5000 वाहनों का काफिला चलेगा। वहीं 1500 स्थानों पर स्वागत होगा।

15 सितंबर से होना थी

बता दें इससे पहले नरेला विधानसभा क्षेत्र के पीपुल्स मॉल के पीछे बागेश्वर धाम के महंत की हनुमंत कथा का आयोजन किया जाना था। 14 सितंबर को पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री भोपाल आने थे, जहां शोभायात्रा निकाली जानी थी, जबकि कथा की शुरुआत 15 सितंबर से होना थी। 16 सितंबर को दिव्य दरबार का आयोजन होना था, लेकिन अब तारीखों में बदलाव किया गया है।