H

बुलेट ट्रेन चलाने के लिए देश की महिला लोको पायलटों में क्रेज

By: Sanjay Purohit | Created At: 01 April 2024 02:17 PM


बुलेट ट्रेन चलाने में भी पीछे नहीं महिलाएं।

banner
नई दिल्ली: हर क्षेत्र में पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर साथ चल रहीं महिलाएं भारत की पहली बुलेट ट्रेन को चलाने में भी मेल लोको पायलट से पीछे दिखाई नहीं दे रही हैं। बुलेट ट्रेन को चलाने के लिए मांगे गए आवेदनों में बड़ी संख्या में महिला लोको पायलटों ने भी आवेदन किए हैं। इन सभी को जल्द ही ट्रेनिंग के लिए जापान भेजा जाएगा। 2026 में गुजरात के सूरत से बिलिमोरा तक ट्रायल रन किया जाएगा।

बुलेट ट्रेन चलाने वाली कंपनी नैशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) के अधिकारियों ने बताया कि उन्हें 400 से अधिक आवेदन मिले हैं। इनमें बड़ी संख्या में महिलाओं ने भी आवेदन किए हैं। अब इन्हें शॉर्टलिस्ट करने का काम किया जा रहा है। उम्मीद है कि मई-जून तक इन्हें ट्रेनिंग के लिए जापान भेज दिया जाए। पहले बैच में 20 एलपी को ही जापान भेजा जाएगा।

जापान में यह भारतीय लोको पायलट जापान की बुलेट ट्रेन शिनकानसेन पर ही ट्रेनिंग लेंगे। पूरी ट्रेनिंग का पीरियड करीब डेढ़ साल का होगा। ट्रेनिंग देने से पहले इन सभी को जापानी भाषा भी सिखाई जाएगी ताकि ट्रेनिंग लेने में लैंग्वेज को लेकर कोई अड़चन न आए। इससे पहले भारत से 13 लोगों को ट्रेनिंग के लिए जापान भेजा गया है।